ऑनलाइन टिकट बुकिंग के नियमों में IRCTC ने किया बदलाव, देख लीजिये क्या हैं नए नियम

देश तेजी से आधुनिकता और डिजिटल युग की ओर बढ़ रहा है। ऐसे में नियमों में कई तरह के बदलाव किए जा रहे हैं ताकि ग्राहकों को सुविधा भी मिले और साइबर अपराधियों से भी बचें। ऐसे में इंडियन कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आइआरसीटीसी) ने अपने ऑनलाइन बुकिंग के नियमों में बदलाव किया है। जिसे तत्काल से प्रभावी कर दिया गया है। अगर आप रेल यात्रा की तैयारी में हैं तो आपको इन नियमों से अवगत करना जरूरी है। नियम से अनजान रहने पर आपको परेशानी हो सकती है।

बुकिंग से पहले करना होगा वेरीफिकेशन

आपको बता दें कि आइआरसीटीसी ने अपने नियमों में बदलाव किया है जिसके तहत आपको टिकट बुकिंग से पहले वेरीफिकेशन करना होगा। इसके तहत आपको बुकिंग से पहले अपना मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी का वेरीफिकेशन कराना होगा। इसके बिना कोई भी यूजर अपना ऑनलाइन टिकट बुकिंग नहीं करा सकते। इसके अलावा वे यूजर जिन्होंने लंबे समय से ऑनलाइन टिकट नहीं बनवाया है उन्हें भी टिकट बनाने से पहले अपना मोबाइल नंबर और ई-मेल आईडी का वेरीफिकेशन करवाना होगा। इसमें यूजर को एक मिनट से भी कम समय लगेगा।

वेरीफिकेशन के पीछे ये है वजह

आपको बता दें कि कोविड 19 के पहले और उसके बाद दूसरी लहर के कारण देश के विभिन्न हिस्सों में लॉकडाउन लगा। लॉकडाउन के पहले चरण में लगभग तीन माह तक ट्रेनों का परिचालन भी बंद हो गया था। ऐसे में ऑनलाइन टिकटों की बुकिंग भी नहीं हो रही थी। ट्रेनों का परिचालन फिर से शुरू होने के बाद सभी यूजर के लिए मोबाइल फोन व ई-मेल आइडी का वेरीफिकेशन को अनिवार्य कर दिया है।

निष्क्रिय एकाउंट को भी सक्रिय करने की है कवायद

आइआरसीटीसी के कई ऐसे यूजर हैं जिन्होंने अपना एकाउंट तो बनाया लेकिन लंबे समय से उसका इस्तेमाल नहीं करने पर वह निष्क्रिय हो चुका है। ऐसे में आइआरसीटीसी ऐसे एकाउंट को फिर से एक्टिव करने का मौका दे रहे हैं। यूजर चाहे तो अपना मोबाइल नंबर व ई-मेल आईडी के माध्यम से अपने एकाउंट को फिर से एक्टिव करा सकते हैं।