इसी वर्ष प्राइवेट हो जाएगी ये 5 सरकारी कंपनियां, वित मंत्री ने कर दिया ऐलान

कोरोना महामारी ने देश अर्थव्यवस्था विकास के पहिए करवा के रख दिया था। इसलिए अब सरकार देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए और विकास को गति प्रदान करने के लिए लगातार कड़े कदम उठा रही है। इसी के तहत सरकार कुछ कंपनियों में विनिवेश तथा कुछ बड़ी कंपनियों का निजीकरण करने जा रही है।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने उद्योग मंडल सीआईआई (CII) की सालाना बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि कोविड-19 महामारी की रोकथाम के लिए लगाई गई पाबंदियों को हटाए जाने के बाद से अर्थव्यवस्था में तेजी और रिवाइवल के संकेत हैं।

उन्होंने जानकारी दी के मौजूदा वित्त वर्ष में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश यानी की एफडीआई में 37 प्रतिशत वृद्धि हुई है। वित्त मंत्री ने कहा कि सरकार इस वित्त वर्ष में 1.75 लाख करोड़ रुपये के विनिवेश लक्ष्य को पूरा कर के रहेगी। इसके लिए सरकार एयर इंडिया, भारत पेट्रोलियम, बीईएमएल (BEML), शिपिंग कॉरपोरेशन और कंटेनर कॉरपोरेशन का निजीकरण इसी साल करेगी।

हम भारतीय रिजर्व बैंक के साथ मिलकर देश की अर्थव्यवस्था को मजबूत करने के लिए काम कर रहे हैं।

उन्होंने कहा कि एशिया की तीसरी सबसे बड़ी इकॉनमी अभी कोरोनावायरस की दो बड़ी लहरों के प्रभाव से उबर रही है। साथ ही उन्होंने यह भी दोहराया कि हम महंगाई को कम करने के लिए लगातार काम कर रहे हैं।