Homeबिहारइथेनॉल उधोग का हब बनेगा बिहार, राज्य में और 17 इथेनॉल प्लांट...

इथेनॉल उधोग का हब बनेगा बिहार, राज्य में और 17 इथेनॉल प्लांट लगेंगे, रोजगार का मिलेगा अवसर

बिहार लगतार उधोग के क्षेत्र में विकसित हो रहा है। बीते दो महीनों में दो उधोग के प्लांट का उधोग हो गया है। पिछले 2 महीने पहले बेगूसराय में पेप्सी बॉटलिंग प्लांट का उद्घाटन किया गया तो वहीं पिछले महीने देश का पहला ग्रीन इथेनॉल प्लांट का निर्माण हुआ। इसमें बताया जा रहा है कि बिहार के कई जिलों में इथेनॉल की कई इकाइयां का निर्माण किया जाएगा।

राज्य में तीन और इथेनॉल प्लांट का उद्घाटन होने जा रहा
बता दे कि केंद्र और राज्य सरकार की इथेनॉल नीति 202 बनने के बाद बिहार के पूर्णिया में पहला ग्रीनफील्ड ग्रेन बेस्ड इथेनॉल प्लांट का शुरुआत हुआ है। आने वाले कुछ महीनों में राज्य में तीन और इथेनॉल प्लांट का उद्घाटन होने जा रहा है। ईस्टर्न इंडिया बायोफ्यूल्स प्रा. लि. ने 96.76 करोड़ रुपए की लागत से इस इथेनॉल प्लांट का निर्माण किया है। एक दिन में अधिकतम 65 हजार लीटर उत्पादन किया जा सकता है।

17 इथेनॉल प्लांट की स्थापना की जा रही 
साल भर का इसमें लाई गई राज्य के इथेनॉल उत्पादन प्रोत्साहन नीति 2021 से राज्य में 151 इथेनॉल प्लांटो के स्थापना हेतु कुल 30,382 करोड़ रुपए का प्रस्ताव आया था। लेकिन वर्तमान में पहले चरण में 17 इथेनॉल प्लांट की स्थापना की जा रही है। पूर्णिया इकाई में उत्पादित एथेनॉल को भारत पेट्रोलियम, हिन्दुस्तान पेट्रोलियम और इंडियन ऑयल जैसी कंपनियों को सप्लाई किया जाएगा। इसके लिए कंपनियों से 10 वर्ष का समझौता किया गया है।

Most Popular