Homeझारखंडअब आ रहा साइक्लोन जवाद, देखिये किन राज्यों में दिखेगा ज्यादा असर

अब आ रहा साइक्लोन जवाद, देखिये किन राज्यों में दिखेगा ज्यादा असर

बंगाल की खाड़ी में बना लो प्रेशर अब धीरे-धीरे ताकतवर होता जा रहा है। एक दिसंबर को इसके डिप्रेशन में बदलने की पूरी संभावना है। इसके 24 घंटे बाद डिप्रेशन के साइक्लोन का रूप लेने के संकेत मिल रहे हैं। साइक्लोन 4 दिसंबर तक ओडिशा और आंध्र प्रदेश के तटीय इलाके में पहुंचेगा। इससे इन राज्यों में भारी बारिश की संभावना जताई जा रही है। साइक्लोन के बादल धनबाद होकर ही गुजरेंगे। ऐसे में यहां भी बारिश होगी। तीन से छह दिसंबर के दौरान झारखण्ड में मौसम का मिजाज बदला रहेगा। साइक्लोन का प्रभाव चार और पांच दिसंबर को पश्चिम बंगाल में भी दिखेगा।

बंगाल की खड़ी में आने वाले चक्रवात का नाम जवाद है जिसका नामकरण सऊदी अरब ने किया है। इस चक्रवात के काफी ताकतवर होने की संभावना जताई जा रही है। बारिश के साथ तेज हवा भी चल सकती है। कई दिनों तक इसका असर दिख सकता है। दूसरी ओर, चार दिसंबर की रात हिमालय में पश्चिमी विक्षोभ के भी संकेत मिल रहे हैं। इसका प्रभाव भी धनबाद में दिख सकता है। बंगाल की खाड़ी से आने वाले गर्म बादलों से जहां तापमान में बढ़ोतरी होगी वहीं पश्चिमी विक्षोभ से आने वाले सर्द बादलों की वजह से सर्दी का भी एहसास होगा। इससे पहले भी पश्चिमी विक्षोभ के बादल और बंगाल की खाड़ी के बादल का मिलन धनबाद में होने से यहां का मौसम बदलता रहा है। इस बार भी ऐसी संभावना बन रही है।

मानसून की जानकार डॉ एसपी यादव ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में चक्रवात जैसी परिस्थिति बनने के कारण है। धनबाद का तापमान बढ़ रहा है। उस ओर से आने वाले गर्म बादलों के यहां की हवा में खुलने की वजह से दिन के तापमान में बढ़ोतरी हो रही है और ठंड का असर कम हो रहा है। हालांकि पश्चिमी विक्षोभ का असर बने रहने की वजह से रात में ठंडक बरकरार रही है। पर एक-दो दिनों में बंगाल की खाड़ी के बादल जब अधिक मात्रा में इस और बढ़ेंगे तो रात के तापमान में भी बढ़ोतरी होगी। मौसम विभाग ने भी अगले दो-तीन दिनों के बाद रात के तापमान में तीन से चार डिग्री तक इजाफा होने की संभावना जताई है।

Note: तस्वीर काल्पनिक है।

Most Popular