अच्छी खबर : मेट्रो से जा सकेंगे पटना एयरपोर्ट, यात्रीयों के सुविधा को देखते हुये बिस्तार किया जायेगा

जयप्रकाश नारायण अंतरराष्ट्रीय अड्डा से पटना मेट्रो भी जुड़ेगा। पटना के जिलाधिकारी डॉ.चन्द्रशेखर सिंह एयरपोर्ट से मेट्रो को जोड़ने के विकल्पों पर अध्ययन करेंगे।

यात्री सुविधाएं मुहैया कराने व संरक्षित विमान परिचालन के लिए एयरपोर्ट सलाहकार समिति की बैठक पूर्व केन्द्रीय मंत्री व सांसद रविशंकर प्रसाद की अध्यक्षता में एयरपोर्ट सभागार में आयोजित की गई। बैठक में पूर्व केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद को एयरपोर्ट अथॉरिटी की ओर से टर्मिनल भवन के विस्तारीकरण के बारे में जानकारी दी गई। साथ ही टर्मिनल भवन के निर्माण की ताजा स्थिति से उन्हें अवगत कराया गया। उन्हें बताया गया कि कुछ समय पहले एयरपोर्ट पर तीसरा लगेज बेल्ट बना है, जिससे यात्रियों को सुविधा हुई है। सलाहकार समिति के अध्यक्ष रविशंकर प्रसाद ने कहा कि नए टर्मिनल भवन बनने के साथ-साथ इसके रनवे का विस्तार अनिवार्य है। उन्होंने इसके लिए तकनीकी टीम बनाकर सभी विकल्पों पर विचार-विमर्श करने का निर्देश दिया। नए बनने वाले टर्मिनल भवन को अगले 40 से 50 साल के बाद की स्थिति को ध्यान में रखकर तैयार करने की बात हुई।

अभी जहां सालाना 35 लाख यात्री आते-जाते हैं। वहीं, नए टर्मिनल बनने के बाद इसकी क्षमता 80 लाख तक पहुंच जाएगी। आने वाले दिनों में पटना से विदेशों के लिये भी विमान उड़ाने की तैयारी है। ऐसे में रनवे का विस्तार अनिवार्य है। रनवे विस्तार के लिए कमेटी गठित कर जिलाधिकारी के साथ मिलकर सभी विकल्पों पर काम करने को कहा गया है। कमेटी की ओर से जिलाधिकारी से आईसीएआर की जमीन को एयरपोर्ट को देने को कहा गया। एयरपोर्ट अथॉरिटी की ओर से यहां समानांतर एयर टैक्सी वे बनाया जाएगा। अभी जो विमान उड़ान भरने के लिए सीधे रन वे पर चली जाती है जिससे रन वे अधिक समय तक जाम हो जाता है। कमेटी के सदस्यों ने जिलाधिकारी से कहा कि एयरपोर्ट पर संभावित भीड़ देखते हुए इसे मेट्रो रेल प्रोजेक्ट से जोड़ना उचित है। इसके लिए प्रस्ताव बनाकर सभी विकल्पों पर विचार हो।

रनवे विस्तार पर की चर्चा

बिहटा एयरपोर्ट के टर्मिनल भवन बनने के साथ-साथ रन वे विस्तार पर की संभावनाओं पर भी बैठक में बात हुई। कमेटी के अध्यक्ष सह सांसद रविशंकर ने अराइवल क्षेत्र में खाने-पीने का काउंटर बनाने के साथ ही शौचालय की बेहतर व्यवस्था करने की सलाह दी। उन्होंने एयरपोर्ट के तमाम शौचालयों की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने को कहा। साथ ही जाड़े में विमानों के उड़ान की स्थिति की सही जानकारी समय पूर्व यात्रियों को देने और इसे डिस्प्ले पर प्रसारित करने का मुद्दा भी उठा। बैठक में पटना डीएम डॉक्टर चन्द्रशेखर सिंह, सीआईएसएफ कमांडेंट विशाल दुबे सहित अन्य लोग मौजूद रहे।