अच्छी खबर : बिहार में पंचायत चुनाव के बाद जल्द इस विभाग में 8067 पदों पर होगी नियुक्त

लोक सेवा का अधिकार (आरटीपीएस) सेवाओं को बेहतर बनाने के लिए बिहार के प्रत्येक पंचायत में कार्यपालक सहायक की नियुक्ति होगी। प्रत्येक पंचायत में दो-दो कार्यपालक सहायक नियुक्त होंगे। इस तरह नए सिरे से कुल 8067 कर पालक सहायकों की नियुक्ति संविदा आधार पर होगी। इस नियुक्ति को लेकर पंचायती राज विभाग प्रस्ताव तैयार कर रहा है। चुनाव संपन्न होने के बाद वित्त विभाग और फिर कैबिनेट की स्वीकृति ली जाएगी। इसके बाद नियुक्ति की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी।

बेल्ट्रॉन के माध्यम से होगा चयन।

विभाग से मिली जानकारी के अनुसार बेल्ट्रॉन के माध्यम से कार्यपालक सहायकों का चयन किया जाएगा। सभी 8067 ग्राम पंचायतों में दो-दो कार्यपालक साहयकों के पदस्थापन को लेकर इनकी नियुक्ति का निर्णय लिया गया है। अभी एक-एक कार्यपाकल सहायक ग्राम पंचायतों में कार्यरत हैं। पंचायतों में स्थापित आरटीपीएस काउंटरों (लोक सेवाओं का अधिकार कानून) को नियमित रूप से बेहतर रूप से संचालन को लेकर और एक-एक कार्यपालय की नियुक्ति होनी है।

वर्तमान में 7700 कार्यपालक सहायक हैं कार्यरत।

प्रदेश के कुल 8067 पंचायतों में वर्तमान में 7700 कार्यपालक सहायक कार्यरत हैं। इस वजह से कई कार्यपालक सहायकों को दो-दो पंचायतों का काम देखना पड़ रहा है। पंचायतों में कार्यरत कार्यपालक सहायकों से जिला प्रशासन द्वारा पंचायती राज के अलावा अन्य कार्य भी लिये जाते हैं, इसलिए आरटीपीएस काउंटर के लिए एक अलग से कार्यपालक सहायक की तैनाती की जानी है, ताकि आरटीपीएस काउंटर का काम प्रभावित नहीं हो और नियमित रूप यहां से लोगों को सेवा मिले।