Homeबिहारअच्छी खबर : पटना रिंग रोड के दूसरे हिस्से का काम जल्द...

अच्छी खबर : पटना रिंग रोड के दूसरे हिस्से का काम जल्द होगा शुरू, जानिये बन जाने से किन शहरो को मिलेगा फ़ायदा

राजधानी की ट्रैफिक व्यवस्था को दुरुस्त करने के लिए राज्य सरकार की तरफ से लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। इसी क्रम में पटना शहर के बाहर – बाहर रिंग रोड बनाने का फैसला लिया गया था। यह सड़क पटना के लिए बाईपास का काम करेगी। बिहटा – सरमेरा पथ के बन जाने से रिंग रोड एक हिस्सा लगभग पूरा हो गया है। इसके बाद कन्हौली के आगे सड़क निर्माण होना है के जिसके लिए भूमि अधिग्रहण का कार्य चल रहा है।

पथ निर्माण विभाग के अधिकारियों ने बताया कि भूमि अधिग्रहण की प्रक्रिया लगभग पूरी कर ली गई है। अब केवल नोटिस जारी करना बाकी है। बता दें कि पटना रिंग रोड की कुल लंबाई 137 किलोमीटर होनी है। इसका विकास उत्तरी और दक्षिणी भाग में किया जा रहा है। रिंग रोड शेरपुर, कन्हौली, नौबतपुर, डुमरी, बेलदारीचक, रामनगर, कच्ची दरगाह, बिदुपुर सराय, नयागांव, दिघवारा होते हुए शेरपुर में समाप्त होगा। रिंग रोड में सर्वप्रथम दक्षिणी भाग पर काम किया जा रहा है, जो 2025 तक पूर्ण होगा। शेरपुर-दिघवारा पुल का निर्माण भी इसी वर्ष तक पूरा होने की उम्मीद है।

पटना का रिंग रोड बन जाने से पटना जिले की ट्रैफिक व्यवस्था तो सुधरेगी ही। साथ ही साथ सारण, भोजपुर, वैशाली, अरवल जहानाबाद और गया जिलों कि और जाने वाले वाहनों को भी फायदा होगा क्योंकि इसकी कनेक्टिविटी कई अन्य सड़कों से भी होगी।

बता दें कि रोड पटना शहर और बिहटा के बीच से गुजरेगा। इस तरह दोनों तरफ से आने जाने वाले लोगों को फायदा होगा। जानकार बता रहे हैं कि इस रिंग रोड के बन जाने से शेरपुर दिघवारा इलाके में भी काफी विकास होगा। यहां पर रियल एस्टेट के प्रोजेक्ट्स आएंगे कई सारे व्यवसायिक प्रतिष्ठान भी खुलेंगे, कई आवासीय कॉलोनियां डेवलप होंगी। पटना रिंग रोड बन जाने के बाद दानापुर, फुलवारीशरीफ, नौबतपुर, मनेर, बिहटा, बिक्रम, संपतचक प्रखंडों को विशेष तौर पर लाभ होगा। आने वाले दिनों में इन जगहों पर आवासीय परिसर विकसित होंगे जिस कारण भविष्य में इन जगहों पर जमीनों की कीमत काफी बढ़ जाएगी।

Most Popular