अगर आप भी ट्रेन में नकली सामान बेचने वालों से हैं परेशान,तो इस नंबर पर करे इसकी शिकायत, मिलेगा समाधान

हर किसी ने अपनी जिंदगी में एक नई खबर ट्रेन का सफर जरूरी किया होगा. आपने कई बार ट्रेन के सफर के दौरान देखा होगा कि कई सारे वेंडर ऐसे होते हैं जो जबरदस्ती ट्रेन में चढ़ जाते हैं और यात्रियों को अपना सामान बेचने लगते हैं.ये लोग पीने के पानी से लेकर, खाने का सामान,डुप्लीकेट पॉवर बैंक, ब्लूटूथ, इयरफोन, डाटा केबल, आदि शामिल हैं।

यह लोग कहते हैं असली सामान बेच रहे हैं और असली सामान के बराबर ही लोगों से पैसे भी लेते हैं,लेकिन बाद में ग्राहकों को यह पता चलता है कि उन्होंने जो सामान खरीदा है वह नकली है. वेंडर तो नकली सामान बेचकर चला जाता है लेकिन लोग बाद में परेशान हो जाते हैं. ट्रेन में अवैध तरीकों से चढ़कर नकली सामान बेचने वाले वेंडरों की भरमार ही लगी रहती है. लेकिन सबसे बड़ा सवाल यह उठता है कि हमें ऐसे वेंडरो की शिकायत कहां करें. तो चलिए हम आपको बताते हैं कि इसकी शिकायत आप कहां कर सकते हैं।

इस नंबर पर करें शिकायत-

अगर आपको सफर के दौरान किसी भी तरह की परेशानी का सामना करना पड़ रहा है या फिर वेंडर आपको नकली सामान बेचकर चला गया है तो आप इसकी शिकायत ‘रेल मदद हेल्पलाइन 139’ पर कर सकते हैं। इस नंबर पर कॉल करने के बाद आप क्यों आपके समस्याओ का समाधान बताया जाएगा.

रेलवे की यह हेल्पलाइन की सुविधा 10 से ज्यादा भाषाओं में उपलब्ध है. आप जिस भाषा में सहूलियत रखते हो उसी भाषा में अपनी शिकायत दर्ज करा सकते हैं.रेलवे कहता है कि यात्री सुरक्षा, शिकायतें और खानपान आदि के संबंध में इस नंबर पर कॉल कर जानकारी हासिल कर सकते हैं।

ट्विटर से भी कर सकते हैं शिकायत –

आप ट्विटर पर ट्वीट करके भी इस बात का शिकायत कर सकते. जरूरी है कि जब आप नेतृत्व कर रहे हो तो उसमें रेल मंत्रालय को जरूर टैग करें. मंत्रालय को टैग करके ट्वीट करने के बाद आपको आपकी समस्याओं का समाधान मिलेगा.