Taj Mahal खुलते ही सबसे पहले पहुंचा चाइनीज जोड़ा!, मचा हडकंप, प्रशासन ने दी यह सफाई

क्या यह हेडिंग भी ले सकते हैं-

पहले दिन Taj Mahal खुलते ही मची अफरा-तफरी, इस देश के जोड़े को चाइनीज समझ बेठे पर्यटक

आगरा. लॉकडाउन (Lockdown) और कोरोना (Corona) के चलते 21 सितम्बर को 6 महीने ताजमहल के गेट खोले गए थे. पहले दिन ही कई विदेशी पर्यटकों (Foreigner Tourist) संग भारतीय पर्यटक भी ताज के हुस्न का दीदार करने पहुंचे. लेकिन ताजमहल में उस वक्त अफरा-तफरी मच गई जब सबसे पहले पहुंचने वाले विदेशी पर्यटकों में एक चाइनीज (Chinese) जोड़ा था. चाइनीज जोड़े को देखते ही पर्यटकों में अफतरा-तफरी मच गई.

लोगों ने उस विदेशी जोड़े से दूरी बना ली. कई लोग तो ताजमहल में एक साइड से खड़े गए. जब चाइनीज जोड़ा ताजमहल (Taj mahal) के अंदर खासी दूर तक चला गया तो लोगों ने राहत की सांस ली. बावजूद इसके कुछ लोग चाइनीज जोड़े के ताज से बाहर आने के बाद ही ताज के अंदर गए. इस दौरान लगातार ताज के अंदर सैनिटाइजेशन (Sanitation) का काम भी जारी था.ये भी पढ़ें :- 370 हटने के बाद से डोमीसाइल सर्टिफिकेट के लिए जम्मू-कश्मीर में आए रिकॉर्ड तोड़ आवेदन

chinese couple, agra, taj mahal, lockdown, taiwan, corona, चीनी जोड़ी, आगरा, ताज महल, तालाबंदी, ताईवान, कोरोना

ताजमहल खुलने पर पहले दिन विदेशी पर्यटकों ने कुछ इस तरह लुत्फ उठाया.

ताजमहल प्रशासन बोला-चाइनीज नहीं ताइवान से आए थे

विदेशी पर्यटकों में सबसे पहले चाइनीज जो़ड़े के ताजमहल पहुंचने की खबर के बाद जब इस बारे में ताजमहल के सहायक संरक्षण अधिकारी अमरनाथ गुप्ता से बात की गई तो उन्होंने बताया, ताजमहल खुलने के पहले दिन 21 सितम्बर को कुल 20 विदेशी ताज देखने आए थे. सबसे पहले ताजमहल में दाखिल होने वाला जोड़ा चीन नहीं ताइवान से आया था. ऑनलाइन बुक कराने के दौरान अपने रिकॉर्ड में पर्यटक ने ताइवान लिखा है. भारतीय पर्यटकों को मिलाकर करीब 2.5 हज़ार पर्यटकों ने पहले दिन ताज के दीदार किए हैं.

ये भी पढ़ें :-  मदरसे के 15 लाख बच्चों के लिए नीतीश सरकार ने लिया बड़ा फैसला, अब होगा ये खास काम… 

कहां आते थे 30 हज़ार पर्यटक और अब पहुंचे सिर्फ 2.5 हज़ार

ताजमहल संघर्ष समिति से जुड़े इब्राहिम ज़ैदी बताते हैं, कोरोना और लॉकडाउन से पहले ताजमहल पर ही 25 से 30 हज़ार भारतीय पर्यटक आते थे और कम से कम भी मानें तो तीन से चार हज़ार विदेशी पर्यटक आते थे. लेकिन पहले दिन पर्यटकों की संख्या को देखते हुए ताज्जुब हो रहा है. ऐसा तो हमने कभी नहीं देखा. हालांकि प्रशासन ने रोज़ाना 5 हज़ार पर्यटकों की इजाज़त दी है. यह बात अलग है कि पहले दिन इतने पर्यटक आए नहीं. लेकिन ताजमहल खुलने के बाद से एक उम्मीद जरूर जागी है.