HomeझारखंडRanchi news- Jharkhand News : महात्मा गांधी के नाम पर बनी योजना...

Ranchi news- Jharkhand News : महात्मा गांधी के नाम पर बनी योजना में घूस ले रहे थे साहब, एसीबी ने रंगेहाथ पकड़ लिया

हाइलाइट्स:

  • पलामू में 10 हजार रिश्वत लेते रोजगार सेवक गिरफ्तार
  • मनरेगा फॉर्म पर दस्तखत करने लिए मांगी थी रिश्वत
  • एसीबी ने इस वर्ष का छठा ट्रैप केस पूरा किया
  • पलामूएंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) की टीम ने पलामू में बड़ी कार्रवाई की। रोजगार सेवक को 10 हजार रुपए रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया। जिले के छतरपुर प्रखंड कार्यालय परिसर से रोजगार सेवक की अरेस्टिंग हुई। गिरफ्तार करने के बाद एसीबी की टीम ने रोजगार सेवक को लेकर मेदनीनगर गई। जहां से न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

    इस साल अब तक 6 घूसखोर पकड़े गएएसीबी (Anti Corruption Bureau) के डीएसपी करुणा नंद राम ने बताया कि रोजगार सेवक को गिरफ्तार करने के साथ ही मेदिनी नगर इकाई ने इस साल का छठा ट्रैप केस को पूरा कर लिया। बीडीओ से लेकर कई पदाधिकारी और जनप्रतिनिधि एसीबी की गिरफ्त में आ चुके हैं।

    मनरेगा फॉर्म पर साइन के लिए मांगी थी रिश्वतदरअसल छतरपुर प्रखंड के कंचनपुर निवासी शंभूनाथ यादव (25) को महात्मा गांधी रोजगार गारंटी अधिनियम (मनरेगा) के फॉर्म पर दस्तखत कराना था। इसके लिए शंभूनाथ यादव ने रोजगार सेवक अब्दुल रहमान से संपर्क किया तो उन्होंने 10 हजार रुपए रिश्वत मांगी। शंभूनाथ यादव रिश्वत देना नहीं चाहते थे। कई बार आग्रह करने के बाद भी जब रोजगार सेवक ने फॉर्म पर हस्ताक्षर नहीं किया तो उन्होंने इस संबंध में एसीबी की मेदिनीनगर कार्यालय में शिकायत दर्ज कराई।

    छतरपुर प्रखंड कार्यालय में घूस लेते पकड़े गएशिकायत को लेकर टीम बनाकर मामले का सत्यापन किया गया। मामला सही साबित होने पर इस संबंध में कार्रवाई के लिए एक टीम बनाई गई। वादी को केमिकल लगे घूस के 10 हजार देकर टीम के साथ छतरपुर प्रखंड कार्यालय भेजा गया। कार्यालय परिसर में जैसे ही रोजगार सेवक ने घूस के 10 हजार रुपए लिए, मौके पर मौजूद एसीबी के जवानों ने रोजगार सेवक को रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया। रोजगार सेवक अब्दुल रहमान मेदनीनगर के लाल कोठा क्षेत्र का रहनेवाला है।

    Most Popular