Live News – बाबरी विध्वंस केस: CBI स्पेशल कोर्ट का 30 सितंबर को फैसला, सभी आरोपी तलब, मगर नृत्य गोपाल दास नहीं रहेंगे उपस्थित

अयोध्या. बाबरी विध्वंस केस (Babri Demolition Case) में सीबीआई की विशेष अदालत (CBI Special Court) बुधवार (30 सितंबर) को अपना फैसला (Verdict) सुनाएगी. अदालत ने इस दौरान सभी आरोपियों को कोर्ट में मौजूद रहने का आदेश दिया है. लेकिन आरोपी नृत्य गोपाल दास (Nritya Gopal Das) फैसले के दिन लखनऊ की विशेष अदालत में मौजूद नहीं रहेंगे. 6 दिसंबर 1992 को अयोध्या मे बाबरी विध्वंस केस में सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में उन्हें आरोपी बनाया है.

स्वास्थ्य कारणों से लिया फैसला

नृत्य गोपाल दास के उत्तराधिकारी कमल नयन दास ने बताया कि उनका स्वास्थ्य ठीक नहीं है इसलिए वह कहीं नहीं जा रहे हैं. कोर्ट भी सब तरह से समझदार है और सब समझती है. नृत्य गोपाल दास बाबरी विध्वंस के आरोपी ही नहीं है बल्कि मौजूदा समय में श्री राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के अध्यक्ष भी हैं. अभी हाल में कोरोना वायरस से ग्रसित होने के बाद उन्हें मेदांता हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था, जहां से उन्हें एयर एंबुलेंस के जरिए वापस अयोध्या लाया गया था. उसी समय से उनका स्वास्थ्य खराब चल रहा है और वह किसी से मिल भी नहीं रहे हैं.

कोर्ट समझदार है, सब समझती है: कमल नयन दास

कमल नयन दास ने कहा का स्वास्थ्य भी ठीक नहीं है इसलिए वह कहीं नहीं जाएंगे. शासन-प्रशासन का भी निर्देश है कि महाराज जी अभी कहीं नहीं जाएंगे. डॉक्टर लगातार देखने आ रहे हैं. इलाज कर रहे हैं इसलिए महाराज जी का जाना अभी उचित नहीं है. कोर्ट भी सब तरह से समझदार है और सब समझती है.