Home देश Live News - चीन में नेपाल के राजदूत बोले- भारत ने हमारी...

Live News – चीन में नेपाल के राजदूत बोले- भारत ने हमारी जमीन पर किया है कब्जा

काठमांडू. चीन की शह पर भारत से दुश्मनी लेने वाले नेपाल (Nepal) की तरफ से अब एक और बयान सामने आया है. नेपाल का कहना है कि भारतीय मीडिया चीन और काठमांडू को लेकर फर्जी खबरें दे रहा है. ये बयान चीन में नेपाल के राजदूत महेंद्र बहादुर पांडेय ने दिया है. उन्होंने कहा कि चीन ने नहीं बल्कि भारत (India) ने नेपाल की जमीन पर कब्‍जा किया है. पांडेय देश के विदेश मंत्री रह चुके हैं और उन्‍होंने पीएम मोदी के पहली बार प्रधानमंत्री बनने पर उनसे सबसे पहले मुलाकात की थी. नेपाल के राजदूत का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब खुद नेपाल की मीडिया ने चीन के जमीन पर कब्‍जा करने का खुलासा किया था. चीन के सरकारी भोपू ग्‍लोबल टाइम्‍स को दिए साक्षात्‍कार में नेपाली राजदूत ने कहा कि भारतीय मीडिया ऐसा डर की वजह से कर रहा है. नेपाल हमेशा से ही एक स्‍वतंत्र देश रहा है जबकि भारत एक उपनिवेश रह चुका है. हम किसी समूह की तरफ झुकाव नहीं रखते हैं.

महेंद्र पांडे ने कहा कि भारतीय मीडिया पक्षपाती हो सकता है या उसे किसी ने भ्रमित किया है. इसी वजह से वे फेक न्‍यूज देते हैं या दुष्‍प्रचार करते हैं. लेकिन यह वास्‍तविकता नहीं है. चीन और नेपाल के बीच सहयोग स्‍वाभ‍ाविक और मित्रतापूर्ण है. नेपाली राजदूत ने भारत के साथ सीमा विवाद पर कहा कि भारत के साथ हमारा लंबे समय से सीमा व‍िवाद है. हमारा पहले चीन के साथ सीमा विवाद था लेकिन उसे कई साल पहले ही सुलझा लिया गया है. हमारा अब चीन के साथ कोई सीमा विवाद नहीं है.

ये भी पढ़ें: पाकिस्तानी पूर्व PM के भाई शहबाज शरीफ गिरफ्तार, मनी लॉन्ड्रिंग का है मामला

‘भारत ने किया हमारी जमीन पर कब्जा’
चीन में नेपाली राजदूत ने कहा, ‘भारत ने हमारी जमीन पर कब्‍जा किया है. वर्ष 1962 में चीन और भारत के बीच युद्ध के दौरान भारतीय सेना के कुछ जवान तात्‍काल‍िक रूप से कालापानी में रुक गए थे लेकिन बाद में वे अब दावा करते हैं कि यह जमीन हमारी है. यह हमारी समस्‍या है. हमने पहले भारत से इस विवाद को सुलझाने के लिए कई बार अनुरोध किया लेकिन वे तैयार नहीं हुए. लेकिन अब भारतीय पक्ष बातचीत के लिए ज्‍यादा आतुर हो गया है और मुलाकात करना चाह रहा है.

Most Popular