Home झारखंड Jharkhand News- चतरा में जंगली हाथियों के झुंड ने दस एकड़ में...

Jharkhand News- चतरा में जंगली हाथियों के झुंड ने दस एकड़ में लगे धान की फसल को किया बर्बाद

हाथियों के इस उत्पात के ग्रामीण दहशत मे भी है और आक्रोशित भी।

सिमरिया प्रखंड के कसारी पंचायत के चुनिडिह गांव में जंगली हाथियों के झुंड ने सोमवार की रात दस एकड़ में लगी धान की फसल को खाकर व रौंदकर नष्ट कर दिया। हाथियों के इस उत्पात के ग्रामीण दहशत मे भी है और आक्रोशित भी। इस झुंड में लगभग बीस की संख्या में हाथी है, जो पिछले दो दिनों से चुनिडिह गांव में डेरा जमाए हुए हैं। इस झुंड में बच्चे और बड़े हाथी दोनों हैं। जो खदेड़ने का प्रयास करने पर हमला कर देते हैं। इसके कारण ग्रामीणों में दहशत और भय का माहौल बना है ।

इस संबंध में पंचायत के मुखिया बालकिशुन तुरी ने सभी लाभुकों के साथ अंचल कार्यालय और वन विभाग में आवेदन देकर किसानों को क्षतिपूर्ति का मुआवजा भुगतान करने की मांग की है। किसानों का कहना है कि काफी प्रयास के बावजूद हाथियों को खदेड़ा नहीं जा सका है। अगर वन विभाग ने समय रहते, इन्हें नहीं भगाया तो गांव के ग्रामीणों के जानमाल की रक्षा नहीं हो पाएगी।

किसानों ने बताया कि धान की फसल पूरी तरह से तैयार थी। पर कटाई करने से पूर्व ही जंगली हाथियों ने उसे नष्ट कर दिया। जिन किसानों के फसलों को नुकसान हुआ है, उनमें सुभाष गंझू, महावीर गंझू, मोहम्मद हलीम, मोहम्मद साबिर, मोहम्मद मोईन, मोहम्मद नौशाद, महेश गंझू, पिंटू गंझू, मोहम्मद मुमताज, मोहम्मद इशाक, लखन गंझू, वीरेंद्र गंझू, किताबुन खातून, सत्तार मियां, नयूम मियां, कलीम मियां, कौलेश्वर गंझू, सहित बीस लोग शामिल है।

जंगली हाथियों का झुंड प्रखंड में दोबारा दस्तक दिया है। इसके पूर्व यह झूंड मकई फसल के समय आया था ।जहां दर्जनों एकड़ में लगे मकई फसल को नष्ट कर दिया था। पंचायत के मुखिया ने सरकार से अभिलंब किसानों को ह मुआवजा देने की मांग की है ।ताकि उनके समक्ष भुखमरी की समस्या उत्पन्न ना हो।

Most Popular