HomeझारखंडJharkhand Live News - बंगाल-केरल के अलकायदा मॉडयूल में शामिल था झारखंड...

Jharkhand Live News – बंगाल-केरल के अलकायदा मॉडयूल में शामिल था झारखंड का अबू सुफियान, 11 संदिग्‍धों के खिलाफ NIA ने दाखिल की चार्जशीट

‘अलकायदा’ और ‘अलकायदा इन इंडियन सबकॉटिनेट’ ने पश्चिम बंगाल व केरल में युवाओं को जोड़ने के लिए अलग अलग मॉडयूल तैयार किए थे। इस मॉडयूल में झारखंड के चतरा जिले का अबू सुफियान भी शामिल था। अबू सुफियान समेत 11 संदिग्ध आतंकियों के साथ खिलाफ एनआईए ने शुक्रवार को चार्जशीट दायर की है। जांच एजेंसियों को संदेह है कि अबू सुफियान ने पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में आतंकी ट्रेनिंग ली, इसके बाद वह पाकिस्तान में ही रह गया। 

अबू सुफियान की तलाश दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को भी इजरायली दूतावास में हमले के बाद था। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने इस संबंध में झारखंड पुलिस से तब पत्राचार भी किया था। झारखंड पुलिस की एटीएस की हिट लिस्ट में भी अबू सुफियान का नाम दर्ज है।

क्या है अबू सुफियान के खिलाफ नया मामला

एनआईए दिल्ली की टीम बंगाल व केरल में अलकायदा के मॉडयूल की जांच शुरू की थी। इस मॉडयूल ने देश के अलग अलग हिस्सों में ब्लास्ट की साजिश रची थी। बांग्लादेश निवासी एक ब्लागर को भारत में रहते हैं, उनकी भी हत्या की जानी थी। पश्चिम बंगाल के मुर्शिद हसन ने पूरा मॉडयूल तैयार किया था। बंगाल में 19 सितंबर 2020 को एनआईए ने इस मामले में नौ लोगों को गिरफ्तार किया था। 

सोशल मीडिया का इस्तेमाल कर युवाओं को कट्टरपंथ की तरफ मोड़ा जा रहा था। जांच में यह बात भी सामने आयी है कि सभी अलकायदा संदिग्ध पाकिस्तान व बांग्लादेश में बैठे अपने आकाओं के संपर्क में थे। उनसे युवाओं को जेहाद के लिए प्रेरित करने की कोशिशें हो रही थी। अफू सुफियान समेत अन्य लोगों के द्वारा जेहाद के लिए हथियार खरीदने के लिए फंड एकत्रित करने के लिए कई बैठकें भी हुई थीं।

पहले से झारखंड के अलकायदा आतंकी हैं रडार पर

दिल्ली में इजराइली दूतावास में हमले के बाद अलकायदा के छह संदिग्धों की तलाश दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल ने शुरू की थी। छह संदिग्धों में चतरा के टंडवा का अबू सुफियान के अलावे जमशेदपुर के वेस्ट जाकिर नगर रोड नंबर-14 का सईद मोहम्मद अर्शियान शामिल थे। 

अर्शियान के भाई जीशान अली को दिल्ली स्पेशल सेल ने 2018 में एयरपोर्ट से गिरफ्तार किया था । जीशान ने ग्लास्गो हवाई अड्डा हमले के मास्टरमाइंड डॉ सबील अहमद की बहन से शादी की है। वहीं आतंकी वारदातों में शामिल होने के संदेह में झारखंड पुलिस चतरा के टंडवा के जिस अबु सूफियान को खोज रही है वह विदेश भाग चुका है। पूर्व में दिल्ली एटीएस की टीम उसकी तलाश में रांची भी आ चुकी है। कटकी ने लिया था नामअबू सुफियान, जीशान अली, जीशान के भाई अर्शीयान समेत 14 संदिग्धों के नाम पहली बार 2015 मे सामने आए थे। कटकी ने पूछताछ में एटीएस को बताया था कि झारखंड में आतंकियों के नेटवर्क को तेजी से फैलाने की दिशा में कार्य चल रहा है।

इसी क्रम में उसके ये 15 संदिग्ध तेजी से युवाओं को जोड़ रहे हैं। पूर्व में बिहार के पटना के गांधी मैदान और रेलवे स्टेशन पर बम ब्लास्ट तथा गया रेलवे स्टेशन पर सीरियल बम ब्लास्ट के बाद झारखंड से आतंकियों के तार जुड़े थे। वहीं, दो दशक में झारखंड में हजारीबाग, गिरिडीह, जमशेदपुर, रांची सहित विभिन्न जगहों से अब तक डेढ़ दर्जन से अधिक संदिग्ध पकड़े जा चुके हैं। जमशेदपुर के धतकीडीह के अब्दुल सामी व मसूद अहमद को दिल्ली एटीएस ने पूर्व में हरियाणा से गिरफ्तार किया था।

Most Popular