Home झारखंड Jharkhand Live News - पूर्व भाजपा विधायक संजीव सिंह ने जेल शिफ्टिंग...

Jharkhand Live News – पूर्व भाजपा विधायक संजीव सिंह ने जेल शिफ्टिंग के फैसले को दी चुनौती, चार लोगों की हत्या का है आरोप

अपने चचेरे भाई नीरज सिंह सहित चार लोगों की हत्या के आरोप में जेल में बंद झरिया के पूर्व भाजपा विधायक संजीव सिंह ने सोमवार को न्यायालय में दो अलग-अलग आवेदन दाखिल किया। संजीव सिंह ने अदालत को आवेदन देकर वापस धनबाद जेल शिफ्ट करने तथा जेल सुपरिंटेंडेंट को शोकॉज जारी करने की प्रार्थना की। आवेदन पर मंगलवार को सुनवाई हो सकती है।

जेल प्रशासन की ओर से सोमवार को कोर्ट में आवेदन देकर सूचित किया गया कि प्रशासनिक कारणों को लेकर जेल आईजी के आदेश पर संजीव सिंह को दुमका जेल स्थानांतरण किया गया है। जेल प्रशासन की ओर से जेल आईजी कार्यालय के पत्र का हवाला देते हुए कहा गया कि 20 फरवरी को धनबाद वरीय पुलिस अधीक्षक द्वारा लिखे गए पत्र के आलोक में संजीव सिंह को दुमका जेल शिफ्ट किया जा रहा है।

संजीव सिंह को भारी सुरक्षा व्यवस्था के बीच सोमवार को ही धनबाद मंडल कारा से दुमका कारा शिफ्ट कर दिया गया था। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से संजीव सिंह को धनबाद की अदालत में पेश करने का निर्देश दिया गया था। संजीव सिंह ने अपने अधिवक्ता के माध्यम से कोर्ट को दिए गए आवेदन में कहा है कि विचाराधीन बंदी को धनबाद जेल से दुमका जेल शिफ्ट करना न केवल कानून का उल्लंघन है बल्कि अदालत के आदेश की भी अवहेलना है। जेल प्रशासन द्वारा सर्वोच्च न्यायालय के आदेश का भी उल्लंघन किया गया है। इस अदालत द्वारा संजीव सिंह को पूर्व में रांची स्थित होटवार जेल से धनबाद वापस बुलाया गया था, उस आदेश का भी उल्लंघन किया गया है।

आवेदन में यह भी कहा गया है कि विचाराधीन बंदी के खिलाफ अभियोजन पक्ष द्वारा गवाही प्रस्तुत की जा रही है। बचाव पक्ष अपने मुवक्किल से प्रति परीक्षण के दौरान कोई बातचीत नहीं कर सकेंगे। इसलिए संजीव सिंह को वापस धनबाद जेल लाने का आदेश दिया जाए।

संजीव ने अपने खर्च पर बेहतर इलाज की सुविधा मांगी
पूर्व विधायक संजीव सिंह ने सोमवार को बंदी आवेदन पत्र भेजकर अदालत से उच्च मेडिकल संस्थान में अपने खर्च पर इलाज करवाने की इजाजत मांगी। जेल सुपरिंटेंडेंट के माध्यम से भेजे गए बंदी आवेदन पत्र में संजीव सिंह की ओर से कहा गया है कि उनकी तबीयत लगातार खराब रह रही है, जिसका इलाज समय-समय पर मंडल कारा धनबाद एवं पीएमसीएच में होता है, लेकिन कुछ दिनों से उनके स्वास्थ्य में लगातार गिरावट आ रही है। वह तरह-तरह की बीमारियों से घिरते जा रहे हैं। उनका सही ढंग से इलाज नहीं हो पा रहा है। उन्होंने अदालत से उच्च मेडिकल संस्थान में अपने खर्च पर इलाज करवाने की इजाजत देने की प्रार्थना की है। इससे पूर्व संजीव सिंह की ओर से उनके अधिवक्ता ने कोर्ट को आवेदन देकर संजीव की बेहतर उपचार कराने की प्रार्थना कोर्ट से की थी।

Most Popular