Home झारखंड JEE Main परीक्षा: सोशल डिस्टेंसिंग और मुस्तैद सुरक्षा व्यवस्था के साथ छात्रों...

JEE Main परीक्षा: सोशल डिस्टेंसिंग और मुस्तैद सुरक्षा व्यवस्था के साथ छात्रों को परीक्षा केंद्र में मिला प्रवेश

जेईई मेन की परीक्षा आज (मंगलवार) से शुरू हो गई। परीक्षा सुबह 9:00 से दोपहर 1:00 बजे तक होनी है, पर सुबह करीब छह बजे से ही रांची के तुपुदाना सेंटर में छात्र और उनके अभिभावक एकत्रित होने लगे थे। एडमिट कार्ड पर जारी टाइमिंग के मुताबिक दो घंटे पहले छात्रों को प्रवेश दिया जा रहा है। एंट्री गेट के बाहर सोशल डिस्टनसिंग का पूरा पालन किया जा रहा है। इसके लिए गेट के बाहर सोशल डिस्टेंसिंग का गोला बनाया गया है। तीन गेट से छात्रों को प्रवेश दिया जा रहा है। गेट पर प्रवेश करते ही छात्रों को हैंड सैनिटाइज कराया जा रहा है। इसके बाद उनकी थर्मल स्क्रीनिंग होती है। स्क्रीनिंग के बाद छात्रों को अपने साथ लाये मास्क को हटा कर सेंटर की ओर से उपलब्ध मास्क दिया जा रहा है।

माइक से दी जा रही जानकारी :
परीक्षार्थियों को नियमों की जानकारी माइकिंग के माध्यम से दी जा रही है। इसमें एंट्री गेट के नंबर से लेकर सोशल डिस्टनसिंग के नियमों के बारे में बताया जा रहा है। साथ ही क्या-क्या डॉक्यूमेंट साथ रखना है, इसके बारे में भी बताया जा रहा है।

अभिभावकों को 100 मीटर दूर रोका गया :
परीक्षार्थियों के साथ आये अभिभावकों को परीक्षा केंद्र से 100 मीटर दूर ही रोक दिया गया। उन्हें केंद्र से बाहर सोशल डिस्टनसिंग के नियमों के पालन की हिदायत दी जा रही थी।

कोई रॉल शीट नहीं चिपकाया गया है :
इस बार एग्जाम सेंटर के बाहर किसी प्रकार रॉल नम्बर शीट नहीं लगाया गया है। लैब के बाहर स्कैनिंग की व्यवस्था की गई है। यहीं से छात्रों को लैब की जानकारी दी जा रही है। 

इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस ले जाने पर पाबंदी :
परीक्षा केंद्र के अंदर छात्रों को केवल एडमिट कार्ड और आई कार्ड ले जाने दिया जा रहा है। इसके अलावा न ही किसी प्रकार का कागज और न ही कोई इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस ले जाने की अनुमति है। परीक्षार्थियों के मास्क को भी बदल दिया जा रहा है।

डर तो है पर भविष्य जरूरी :
परीक्षार्थियों ने बताया कि ज्यादातर छात्र यहां रांची जिले के ही हैं, पर करीब 20-25 फीसदी लोहरदगा, पलामू, गुमला, सिमडेगा आदि शहरों से भी आए हैं। उनसे कोरोना महामारी में एग्जाम कंडक्ट कराने के बारे में पूछा गया, तो ज्यादातर छात्रों का कहना था कि डर तो लग रहा है, पर भविष्य सुरक्षित करने के लिए यह एग्जाम देना जरूरी है।

भाजपा युवा मोर्चा ने लगाया हेल्प डेस्क :
छात्रों को परेशानी न हो, इसके लिए भाजपा युवा मोर्चा के लोगों ने एग्जाम सेंटर के बाहर एक हेल्प डेस्क बना रखा है। वे यहां छात्रों और अभिभावकों को सोशल डिस्टेंसिंग से लेकर अन्य जानकारी व सहयोग उपलब्ध करा रहे हैं।
 

Most Popular