IMA बिहार की मांग, कोरोना से मरने वाले डॉक्टरों को मिले दुर्घटना बीमा का लाभ

bihar corona virus updates  bihar covid 19 updates  patna corona updates

इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आइएमए), बिहार ने राज्य सरकार से कोरोना संक्रमण से लड़ते हुए मरने वाले सरकारी व निजी डॉक्टरों को प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के तहत घोषित दुर्घटना बीमा की राशि के भुगतान की मांग की। आइएमए, बिहार ने अपनी मांगों की पूर्ति के लिए स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय और स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव प्रत्यय अमृत को पत्र लिखा है। 

शनिवार को आइएमए, बिहार के सचिव डॉ. सुनील कुमार ने बताया कि आइएमए का मानना है कि केंद्र सरकार द्वारा घोषित इस बीमा योजना की शर्तो को राज्य के सभी सरकारी व निजी डॉक्टर पूरा करते हैं। वहीं, बिहार सरकार ने भी 17 मार्च 20 को अधिसूचित ‘ बिहार ईपीडिमिक डीजिज कोविड-19 नियमावली,2020’ में उल्लेख किया है कि सभी अस्पतालों (सरकारी व निजी) में फ्लू कॉर्नर होना अनिवार्य हैं, जहां कोविड-19 से संबंधित रोगियों का स्क्रीनिंग किया जाएगा। इसी में ऐसा नहीं करने पर दंड का भी प्रावधान किया गया है। राज्य के सभी निजी डॉक्टर व अस्पताल कोरोना के इलाज में जुटे हैं। 

डॉ. कुमार ने सभी मृतक डॉक्टरों को शहीद घोषित करते हुए बीमा योजना का लाभ दिलाने की मांग की। कहा कि मृतक डॉक्टरों के परिजन आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं। उन्होंने दलसिंहसराय स्थित अस्पताल में कोरोना मरीजों का इलाज करते हुए मृत्यु को प्राप्त करने वाले डॉ. अविनाश की दंत चिकित्सक पत्नी डॉ. मीनाक्षी को योग्यता अनुसार सरकारी सेवा में लेने की भी मांग की।