Drugs Case : जिस व्हाट्सएप ग्रुप में होती थी ड्रग्स की बात उसकी एडमिन हैं दीपिका पादुकोण

मुंबई. सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput Case) की मौत के मामले में ड्रग एंगल (Drugs Case) सामने आने के बाद बॉलीवुड के कई बड़े सितारे नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (Narcotics Control Bureau) के रडार पर आ गए हैं. रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी के बाद एनसीबी की टीम आज जहां अभिनेत्री रकुलप्रीम सिंह से पूछताछ कर रही है, वहीं इस मामले में अब एनसीबी को बड़ी जानकारी हाथ लगी है. एनसीबी के सूत्रों के मुताबिक जिस व्हाट्सअप ग्रुप में ड्रग्स को लेकर बातचीत होती थी उस ग्रुप की एडमिन दीपिका पादुकोण थीं.

एनसी​बी के सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक इस ग्रुप को साल 2017 में बनाया गया था और इस ग्रुप में दीपिका, जया शाह और करिश्मा प्रकाश शामिल थीं. इस ग्रुप के जरिए ही दीपिका और करिश्मा ड्रग्स को लेकर बात कर रही थीं. वहीं दूसरी तरफ खबर मिली है कि रकुलप्रीत सिंह ने एनसीबी के सामने कबूल किया है ​कि उन्होंने साल 2018 में रिया के साथ ड्रग्स चैट की थी. उन्होंने माना है कि रिया चक्रवर्ती के साथ उनकी ड्रग्स चैट हुई थी. रकुलप्रीत ने एनसीबी को बताया कि रिया चैट में अपना सामान मंगवा रही थीं. रकुलप्रीत ने बताया कि रिया का सामान (ड्रग्स) मेरे घर था. फिलहाल रकुलप्रीत ने ड्रग्स लेने की बात से इनकार कर दिया है.

इसे भी पढ़ें :- Drugs Case : सनम जौहर और एबिगेल पांडे के खिलाफ केस दर्ज, NCB करेगी पूछताछबता दें कि रिया चक्रवर्ती की गिरफ्तारी के बाद एनसीबी की टीम ने जहां अभिनेत्री दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर को पूछताछ के लिए समन भेजा है तो वहीं टीवी एक्टर सनम जौहर और एबिगेल पांडे के खिलाफ एनडीपीएस की धारा 20 के तहत केस दर्ज कर लिया गया है.

इसे भी पढ़ें :- Sushant Case: सुशांत सिंह केस में अब NIA की हो सकती है एंट्री, ड्रग्स मामलों की जांच की मिली मंजूरी- रिपोर्ट

घर से बरामद हुआ था गांजा
बता दें कि गुरुवार को टीवी एक्टर सनम जौहर और एबिगेल पांडे से पूछताछ करने से पहले उनके घर पर एनसीबी ने रेड डाली थी. इस रेड में उनके घर से छोटी मात्रा में गांजा बरामद किया गया था. दोनों एक्टर्स के खिलाफ एनसीबी ने मामला तो दर्ज कर लिया है लेकिन उन्हें ​अभी गिरफ्तार नहीं किया गया है. एनसीबी के सूत्रों के मुताबिक इन दोनों से अभी और पूछताछ की जानी है और जल्द ही इन्हें फिर पूछताछ के लिए बुलाया जा सकता है.