Home बिहार Bihar News- ​​​​​​​हसनपुर में दामाद तेजप्रताप की जीत-हार होगी तय तो परसा...

Bihar News- ​​​​​​​हसनपुर में दामाद तेजप्रताप की जीत-हार होगी तय तो परसा में ससुर चंद्रिका की किस्मत पर होगा फैसला

तेजप्रताप यादव और चंद्रिका यादव।

बिहार विधानसभा चुनाव के दूसरे चरण के रण के लिए मैदान तैयार हो चुका है। दूसरे चरण में सबसे अधिक 94 सीटों पर मतदान होना है। खास बात यह है कि इसी चरण में लालू प्रसाद के दोनों बेटों तेजस्वी और तेजप्रताप यादव की किस्मत का भी फैसला होगा। इसके साथ ही तेजप्रताप यादव के ससुर चंद्रिका राय की सीट परसा में भी दूसरे चरण में चुनाव होना है। दूसरे चरण में इन महारथियों के साथ ही महागठबंधन और एनडीए के कई बड़े चेहरे मैदान में हैं।

सरायरंजन सीट से जदयू के टिकट पर विजय कुमार चौधरी मैदान में हैं तो बाहुबली रीतलाल यादव भी दानापुर की सीट से इस चरण में ताल ठोंक रहे हैं। शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे और फिल्म अभिनेता रहे लव सिन्हा इसी चरण में बांकीपुर से किस्मत आजमा रहे हैं तो तारापुर से जयप्रकाश नारायण यादव की बेटी दिव्या प्रकाश इसी चरण में तारापुर से चुनावी मैदान में है।

दूसरे चरण की सीटों के बड़े चेहरे

रेणु देवी : भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष और पूर्व मंत्री रेणु देवी इसी चरण में बेतिया से चुनाव मैदान में हैं। इनके खिलाफ कांग्रेस के मदनमोहन तिवारी खड़े हैं।

नीतीश मिश्रा : झंझारपुर की सीट से पूर्व मुख्यमंत्री जगन्नाथ मिश्रा के बेटे नीतीश मिश्रा भाजपा के टिकट पर मैदान में हैं। नीतीश मिश्रा खुद भी बिहार सरकार में मंत्री रह चुके हैं। उन्हें राजद के रामनारायण यादव टक्कर दे रहे हैं।

चंद्रिका राय : परसा सीट से चुनावी मैदान में हैं तेजप्रताप यादव के ससुर और लालू यादव के समधी चंद्रिका राय। लालू प्रसाद यादव के परिवार से पारिवारिक विवाद के बाद चंद्रिका राय पहली बार जदयू के टिकट पर मैदान में हैं। इससे पहले वे राजद से ही इस सीट से कई बार जीते हैं।

तेजस्वी यादव : महागठबंधन के सीएम पद के उम्मीदवार और लालू प्रसाद के छोटे बेटे तेजस्वी यादव की सीट राघोपुर में इसी चरण में मतदान होना है। तेजस्वी यादव को यहां चुनौती दे रहे हैं भाजपा के सतीश कुमार यादव।

तेजप्रताप यादव : लालू प्रसाद के बड़े बेटे और राजद नेता तेजप्रताप यादव की सीट हसनपुर में इसी चरण में मतदान होना है। इससे पहले तेजप्रताप यादव महुआ सीट से जीतकर विधानसभा पहुंचे थे, लेकिन इसबार उन्होंने हसनपुर को अपना मैदान बनाया है। उन्हें इस सीट पर टक्कर दे रहे हैं जदयू के राजकुमार राय।

मंजू वर्मा : चेरिया बरियारपुर की सीट से फिर से मैदान में उतर रहीं पूर्व समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा की सीट पर इसी चरण में मतदान होना है। समाज कल्याण मंत्री के तौर पर विवाद में रहने और बालिका गृह कांड में आरोपी होने के बाद उन्हें मंत्री पद छोड़ना पड़ा था। उन्हें राजद के राजवंशी महतो चुनौती दे रहे हैं।

अजीत शर्मा : कांग्रेस नेता और बॉलीवुड अभिनेत्री नेहा शर्मा के पिता अजीत शर्मा की भागलपुर सीट पर इसी चरण में मतदान होना है। अजीत शर्मा को यहां भाजपा के रोहित पांडेय टक्कर दे रहे हैं।

दिव्या प्रकाश : पूर्व केन्द्रीय मंत्री जयप्रकाश नारायण यादव की बेटी दिव्या प्रकाश इस बार राजद की टिकट पर युवा चेहरे के तौर पर तारापुर के चुनावी मैदान में हैं। दिव्या प्रकाश को इस सीट पर टक्कर दे रहे हैं जदयू के मेवालाल चौधरी।

लव सिन्हा : बांकीपुर की लड़ाई को जिस युवा और फिल्मी चेहरे ने दिलचस्प बना दिया है, वह है- लव सिन्हा। शत्रुघ्न सिन्हा के बेटे लव सिन्हा कांग्रेस प्रत्याशी के तौर पर बांकीपुर की सीट से अपना राजनीतिक करियर शुरू कर रहे हैं। बांकीपुर में उनकी लड़ाई भाजपा के नीतिन नवीन से है।

पुष्पम प्रिया चौधरी : प्लूरल्स पार्टी की अध्यक्ष पुष्पम प्रिया चौधरी फिल्मों में तो नहीं रही हैं, लेकिन बिहार की राजनीति में उनकी इंट्री फिल्मी अंदाज में हुई है। पुष्पम प्रिया बिहार की दो सीटों से चुनाव लड़ रही हैं, दरभंगा की विस्फी और पटना की बांकीपुर सीट से। बांकीपुर में उनकी टक्कर भाजपा के नीतिन नवीन से है।

रीतलाल यादव : बाहुबली रीतलाल पिछले ही महीने जेल से बाहर आये हैं और इसबार दानापुर में जोर आजमाईश कर रहे हैं। दानापुर की सीट पर दूसरे चरण में मतदान होना है। इस सीट पर एकबार फिर भाजपा की टिकट पर आशा सिन्हा उसे टक्कर देंगी।

नंदकिशोर यादव : मंत्री नंदकिशोर यादव की सीट पटना साहिब पर इसी चरण में मतदान होना है। पथ निर्माण मंत्री रहे नंदकिशोर यादव को इस सीट पर कांग्रेस के प्रवीण कुशवाहा टक्कर दे रहे हैं।

श्रवण कुमार : ग्रामीण विकास मंत्री रहे श्रवण कुमार नालंदा से मैदान में हैं। इन्हें कांग्रेस के गुंजन पटेल इसबार चुनौती दे रहे हैं।

रामसेवक सिंह : समाज कल्याण मंत्री रहे रामसेवक सिंह हथुआ सीट से चुनाव मैदान में हैं और इनकी टक्कर राजद के राजेश कुमार सिंह से है।

हरिनारायण सिंह : हरनौत सीट से मैदान में उतरे मंत्री हरिनारायण सिंह को इस बार कांग्रेस के कुंदन गुप्ता चुनौती दे रहे हैं।

राणा रंधीर : सरकार में सहकारिता मंत्री रहे राणा रंधीर इस बार मधुबन के मैदान से हैं। इन्हें राजद के मदन प्रसाद चुनौती दे रहे हैं।

दूसरे चरण के रण में किसकी-कितनी सीटेंदूसरे चरण में कांग्रेस 24 सीटों पर लड़ाई लड़ रही है, वहीं महागठबंधन की दूसरी पार्टी राजद 66 सीटों पर उम्मीदवार उतार रही है। एनडीए में भाजपा 46 सीटों पर सीधे मैदान में है तो जदयू 43 सीटों पर मैदान में है। सीपीआई 4 सीटों पर, सीपीआईएम 4 सीटों पर और वीआईपी 5 सीटों पर चुनाव लड़ रही है।

राजद की सबसे ज्यादा सीटें दांव परराजद की सबसे ज्यादा सीटें इस चरण में दांव पर लगी है। राजद की इस चरण में कुल 33 सीटें ऐसी हैं, जिन पर वह 2015 के चुनाव में जीता था। वहीं भाजपा की 20 जीती गई सीटें दांव पर है तो जदयू की 30 जीती गई सीटें दांव पर लगी हैं। कांग्रेस की 7 जीती गईं सीटें दांव पर लगी हैं।

Most Popular