Home बिहार Bihar News- राहुल बोले- मजदूर जब भूखे पैदल लौट रहे थे, तब...

Bihar News- राहुल बोले- मजदूर जब भूखे पैदल लौट रहे थे, तब मोदीजी अमीरों का टैक्स माफ कर रहे थे

राहुल ने मंगलवार को कोरहा और किशनगंज में रैलियां कीं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी मंगलवार को बिहार में 2 रैलियां कीं। उनकी पहली रैली कोरहा में और दूसरी किशनगंज में हुई। यहां उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर जमकर हमला बोला। राहुल ने कहा कि जब बिहार के मजदूर हजारों किमी से पैदल भूखे-प्यासे लौट रहे थे, तब मोदीजी और नीतीश जी कहां थे? जब जरूरत थी तब कहां थे दोनों? वो दोनों हिंदुस्तान के सबसे अमीर लोगों का कर्ज माफ कर रहे थे।

राहुल के भाषण की 5 अहम बातें1. ‘नीतीशजी और मोदीजी ने धोखा दिया’कुछ साल से नीतीशजी बिहार के CM हैं। आज नीतीशजी NDA में हैं, मोदीजी के साथ पार्टनर बने हुए हैं। मगर आपको याद होगा कि पिछले चुनाव में नीतीशजी हमारे साथ थे। आपने गठबंधन को वोट दिया था, आपने NDA को वोट नहीं दिया था। उन्होंने धोखा दिया है। अभी तक बात समझ नहीं आई कि मोदीजी आते हैं, कहते हैं 15 लाख रुपए हर बैंक अकाउंट में डालूंगा। चुनाव जीतते हैं, 8 बजे आते हैं, कहते हैं 500 रुपए, 1000 रुपए सब रद्द, अपना सब पैसा बैंक में डाल दो। चुनाव से पहले कहते हैं मैं पैसा दूंगा। प्रधानमंत्री बनते हैं तो आपसे पैसा लेते हैं। बिहार के सब लोग, माता-पिता, भाई-बहन बैंक के सामने जाकर खड़े हो गए। 3.50 लाख करोड़ रुपए मोदीजी ने आपकी जेब से निकालकर उन बड़े उद्योगपतियों का कर्ज माफ कर दिया।’

2. ‘जब मजदूरों को जरूरत थी, तब आप कहां थे’कोरोना की जब शुरुआत हुई, TV पर हर तरफ मोदीजी का चेहरा दिखता था। मोदीजी ने ट्रेनें बंद कर दीं। जब बिहार के मजदूर पैदल आ रहे थे, तो मोदीजी ने उनकी मदद नहीं की। जब आप सड़क पर भूखे चल रहे थे, प्यासे थे, तब मोदीजी और नीतीशजी ने आपकी मदद नहीं की। आज यही 2 लोग आपके सामने आते हैं। जरा भी शर्म नहीं हैं इनमें। जब जरूरत थी, तब नीतीशजी कहां थे, नरेंद्र मोदीजी कहां थे। मोदीजी और नीतीशजी हिंदुस्तान के सबसे अमीर लोगों की मदद कर रहे थे। उनका टैक्स माफ कर रहे थे।

3. ‘बिना नोटिस दिए लॉकडाउन लगा दिया’मोदी ने बिना कोई वॉर्निंग के, बिना कोई नोटिस के लॉकडाउन लगा दिया। उन्होंने ऐसा क्यों किया, इसका एक ही जवाब हो सकता है कि PM के दिल में गरीबों के लिए, मजदूरों के लिए कोई जगह नहीं है। ये सिर्फ मजदूरों की बात नहीं है। ये हिंदुस्तान की जनता का अपमान है। बिहार के लोग जब महाराष्ट्र जाते हैं, दिल्ली जाते हैं, तो वहां पर वो खून पसीना देते हैं। दिन भर काम करते हैं, और PM ने उनको एक दिन नहीं दिया। एक दिन छोड़िए, 5 घंटे नहीं दिए। हम सरकार में नहीं थे। हमने मजदूरों को बसें दिलवाईं। इतना ही कर पाए। मगर जो भी हम कर सकते थे, हमने किया।

4. ‘मोदी जी MSP, मंडी सिस्टम खत्म करना चाहते हैं’2006 में MSP के सिस्टम को बिहार की सरकार ने खत्म कर दिया। कुछ दिन पहले नरेंद्र मोदीजी ने 3 नए कानून लागू किए हैं। मोदीजी MSP का सिस्टम, मंडी का सिस्टम खत्म कर रहे हैं। क्योंकि वे चाहते हैं कि गिने चुने हुए 2-3 बड़े उद्योगपति, 2-3 बिचौलिए हों। हिंदुस्तान का किसान जब मक्का बेचे, धान बेचे, तो मंडी में न बेचे, सीधे अंबानी या अडानी को बेचे। मंडी में आप जाते हो, अगर आपको यहां सही रेट नहीं मिलता, तो दूसरी जगह सौदा कर लेते हो। आने वाले समय में आप सिर्फ अंबानी या अडानी से सौदा कर पाओगे।

5. भाजपा-RSS नफरत फैलाते हैंRSS और मोदीजी देश में नफरत फैला रहे हैं। एक तरफ NDA, दूसरी तरफ गठबंधन और बीच में NDA की B टीम घूम रही है। भाजपा-RSS नफरत फैलाते हैं, हम उनसे लड़ते हैं। भाजपा की B टीम नफरत फैलाती है, हम उनसे भी लड़ते हैं। हमारा काम देश की जनता को एक साथ लाने का है। A टीम और B टीम का काम देश को बांटने का है। अगर ये बंट जाएगा, तो किसी को फायदा नहीं होगा। और जुड़ जाएगा, तो सबको फायदा होगा।

Most Popular