HomeबिहारBihar news- क्या बिहार में लॉकडाउन लगाने को लेकर नीतीश कुमार कर...

Bihar news- क्या बिहार में लॉकडाउन लगाने को लेकर नीतीश कुमार कर रहे हैं उच्च स्तरीय बैठक ?

हाइलाइट्स:

  • सोमवार को बिहार में 24 घंटे में 72,658 सैंपल की हुई जांच में 11,407 नए संक्रमित मिले
  • पटना में सर्वाधिक 2028 नए संक्रमित मरीज मिले
  • IMA ने की है बिहार में 15 दिन के लॉकडाउन की मांग
  • पटना।बिहार में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार कोई बड़ा फैसला ले सकती है। बता दें कि सोमवार की दोपहर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने खुद पटना की सड़क पर निकल कर स्थिति का अवलोकन किया। हालांकि इसके पहले भी मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पटना की सड़क पर पटना की स्थिति जानने के लिए निकले थे। लेकिन राज्य सरकार द्वारा उठाए गए तमाम कदम के बावजूद बिहार में संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है।

    उच्च स्तरीय बैठक में उप मुख्यमंत्री समेत तमाम अधिकारी शामिलमुख्यमंत्री नीतीश कुमार द्वारा पटना का निरीक्षण करने के बाद बुलाई गई उच्च स्तरीय बैठक में बिहार के दोनों उपमुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव समेत बिहार के सभी जिलों के डीएम, एसपी और स्वास्थ्य विभाग अधिकारी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से जुड़े हुए हैं। ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि कोरोना संकट को लेकर लगातार बैठक करने वाले नीतीश कुमार आज की बैठक में बिहार में 14 दिन का लॉकडाउन लगाने का फैसला ले सकते हैं।

    जानकारों का कहना है कि बिहार सरकार द्वारा इसके पहले भी लोगों को कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाने के लिए कई तरह के गाइडलाइन और कदम उठाए गए थे। लेकिन गाइडलाइन का लगातार उल्लंघन किए जाने से संक्रमित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा होता है। इसलिए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार सोमवार को लॉकडाउन लगाने का फैसला कर सकते हैं।

    बता दें कि डॉक्टरों के संगठन IMA ने बिहार में 15 दिन के लॉकडाउन की मांग दोहरायी है। डॉक्टरों के संगठन का कहना है कि अगर लॉकडाउन नहीं किया गया तो कोरोना के भयावह रूप को रोक पाना संभव नहीं होगा। IMA अध्यक्ष डॉ. सहजानंद प्रसाद के अनुसार उन्होंने तो 15 दिन पहले ही देश में लॉकडाउन की मांग की थी लेकिन इस पर ध्यान नहीं दिया गया और आज नतिजा सबके सामने है। IGIMS के डॉक्टरों का भी कहना है कि बिहार में कम से कम 15 दिन के लिए लॉकडाउन लगाने की जरूरत है क्योंकि ऐसा करने से ही कोरोना के चेन को तोड़ा जा सकता है।

    Most Popular