HomeबिहारBihar Live News - बिहार में खाकी को निशाना बनाने से नहीं...

Bihar Live News – बिहार में खाकी को निशाना बनाने से नहीं हिचकते अपराधी, 7 साल में 11 पुलिसकर्मी मारे गए

अपराधी अब पुलिस पर भी गोलियां चलाने से नहीं हिचकते। बिहार के सीतामढ़ी जिले में मुठभेड़ में शहीद हुए सब-इंस्पेक्टर दिनेश राम से पहले भी कई पुलिसवाले अपराधियों की गोलियों का निशाना बन चुके हैं। पिछले 7 वर्षों में 11 पुलिस अफसर और जवान, मुठभेड़ में मारे गए या उनकी हत्या कर दी गई। एक पुलिस अफसर को तो मॉब लिंचिंग में अपनी जान गवांनी पड़ी थी।

वाहन जांच कर रहे संजय तिवारी को मार दी थी गोली
23 दिसम्बर, 2014 को छपरा में बड़ी वारदात हुई थी। अपराधियों की धर-पकड़ के लिए इसुआपुर के तत्कालीन थानेदार संजय कुमार तिवारी वाहन जांच कर रहे थे। तभी बाइक सवार अपराधी गुजरे। पुलिस ने उन्हें रोकने की कोशिश की तो थानेदार संजय कुमार तिवारी को लुटेरों ने गोली मार दी। इस घटना में वे शहीद हो गए। 2015 में एक के बाद एक तीन पुलिस अधिकारियों को मौत के घाट उतार दिया गया था। जुलाई महीने में भरगामा के तत्कालीन थाना प्रभारी प्रवीण कुमार अपराधियों को पकड़े के दौरान गोली लगने से शहीद हो गए थे। 

वहीं, नालंदा के नगरनौसा में अपराधियों द्वारा चलाई गई गोली से दारोगा अवधेश कुमार की मौत हो गई थी। वर्ष 2016 के जनवरी में वैशाली थाना में तैनात एएसआई अशोक कुमार की हत्या अपराधियों ने लूटपाट के दौरान कर दी। वहीं अप्रैल में मरांची थाना के दारोगा सुरेश ठाकुर को अपराधियों ने बाढ़ में गोली मार दी थी जब वह कोर्ट से लौट रहे थे। दिसम्बर 2018 में पटना के न्यू बाइपास इलाके में अपराधी को पकड़ने गए जवान मुकेश कुमार्र ंसह मुठभेड़ में शहीद हो गए थे। वहीं अगस्त 2019 में छपरा के मढौरा में अपराधियों द्वारा की गई फार्यंरग में दारोगा और सिपाही शहीद हो गए जबकि एक जवान घायल हो गया।

शहीद हुए पुलिसकर्मी या कर दी गई हत्या23 दिसम्बर 2014- छपरा के इसुआपुर थाना प्रभारी संजय कुमार तिवारी की हत्या14 जुलाई 2015- भरगामा थाना प्रभारी प्रवीण कुमार की गोली मारकर हत्या18 सितम्बर 2015- नालंदा के नगरनौसा थाना प्रभारी अवधेश कुमार की हत्या18 नवम्बर 2015- वैशाली के बेलसर ओपी के प्रभारी अजीत कुमार की पीटकर हत्या8 जनवरी 2016- वैशाली थाना में तैनात एएसआई अशोक कुमार की गोली मारकर हत्या18 अप्रैल 2016- मरांची थाना के दारोगा सुरेश ठाकुर की बाढ़ में गोली मारकर हत्या13 अक्टूबर 2018- खगड़िया के पसराहा थाना प्रभारी आशीष कुमार अपराधियों के साथ मुठभेड़ में शहीद। सलारपुर मोजमा दियारा में हुई घटना।3 दिसम्बर 2018- पटना के न्यू बाइपास इलाके में अपराधी को पकड़ने गए जवान मुकेश कुमार सिंह मुठभेड़ में शहीद20 अगस्त 2019- छपरा के मढौरा में अपराधियों द्वारा की गई फार्यंरग में दारोगा और सिपाही शहीद, एक जवान गंभीर रूप से जख्मी24 फरवरी 2021- सीतामढ़ी के मेजरगंज के कुवारी गांव में मुठभेड़ में एसआई दिनेश राम शहीद, चौकीदार को लगी गोली। 

मेजरगंज पुलिस को रंगदारी व लूटकांड के आरोपियों के कुआड़ी मदन गांव के सरेह में बने झोपड़ीनुमा घर में छिपे होने की सूचना मिली थी। पुलिस मौके पर पहुंची तो आरोपियों ने फार्यंरग कर दी। इसमें एसआई दिनेश राम की मौत हो गयी और चौकीदार लालबाबू पासवान जख्मी हो गए। इस मामले में एक अपराधी रंजन सिंह की मौत हुई है। एक अन्य मुकुल सिंह पकड़ा गया। रंजन की मौत कैसे हुई, इसकी जांच की जा रही है।  – अनिल कुमार, एसपी, सीतामढ़ी

Most Popular