HomeबिहारBihar Live News - कोरोना: समस्तीपुर में खत्म हुआ टीके का स्टॉक,...

Bihar Live News – कोरोना: समस्तीपुर में खत्म हुआ टीके का स्टॉक, मायूस होकर घर लौटे लोग

जिले में कोरोना वैक्सीन का कोटा समाप्त हो जाने से गुरुवार को विभिन्न टीकारण केंद्रों पर टीका लेने गये लोगों को निराश होकर लौटना पड़ा। कई लोग टीका लेने के लिए समय से पहले ही टीका केंद्र पर पहुंच गये थे, लेकिन टीका के अभाव में वहां कोई नहीं था। सरायरंजन प्रखंड में वुधवार शाम ही कोरोना का टीका खत्म हो गया था। जिससे सीएचसी एवं गांव बनाये गये केंद्र पर टीका लेने के लिए पहुंचे सैकड़ों लोगों का बगैर टीकाकरण के ही मायूस होकर लौटना पड़ा। 

लोगों ने बताया कि टीका लेने के लिए वे सुबह ही टीका केंद्र पर पहुंच गये थे। लेकिन वहां टीका देने वाले कर्मी नहीं थे। पीएचसी में पता करने पर बताया गया की टीका खत्म हो गया है। ऐसे में लोग बिना टीका लिए ही घर वापस चले गए। सीएचसी प्रभारी डॉ. विजय कुमार ने बताया की बुधवार शाम तक लोगों को टीका दिया गया। उसके बाद टीका खत्म हो गया। टीका आ जाएगा तब लोगों को दिया जाएगा।

वारिसनगर प्रखंड के तीन सेंटर पर गुरुवार को टीकाकरण नही हुआ। इससे भीषण धूप में छाता व चेहरे पर तौलिया रखकर टीका लेने आये लोगों को घर लौटना पड़ा। बताया गया है कि पीएचसी वारिसनगर, राजकीय उत्क्रमित उच्च माध्यमिक विद्यालय छतनेश्वर, उमवि लभट्टा स्थित टीकाकरण केंद्र पर टीका लेने के लिए सवेरे से ही लोग पहुंचने लगे थे। मगर वैक्सीनेशन नहीं रहने के कारण सभी निराश लौट गये। पीएचसी प्रभारी डॉ रामचन्द्र महतो ने बताया कि वैक्सीन खत्म हो जाने की सूचना जिला को भेजी दी गई है।

कल्याणपुर प्रखंड स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गुरुवार को वैक्सीन समाप्त हो जाने से टीकाकरण का कार्य नहीं हो पाया। जिससे जो लोग टीका लेने पहुंचे उन्हें वापस लौट जाना पड़ा। सीएचसी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ बीके ठाकुर ने बताया कि शुक्रवार को टीका उपलब्ध होने पर शनिवार से टीकाकरण किया जाएगा।

मोहनपुर पीएचसी से वैक्सीन का टीका लेने के इच्छुक लोग गुरुवार को निराश लौट गये। बताया गया कि वैक्सीन के वॉयल उपलब्ध नहीं थे। प्रखंड स्वास्थ मैनेजर आदित्यमणि ने बताया कि पीएचसी में 90 लोगों के लिए 9 वॉयल उपलब्ध थे, किंतु पहले से वैक्सीनेशन शिविर के लिए तय हरदास-सरसावा गांव जानेवाली टीम को वे वॉयल दे दिए गये। इस कारण आये पांच-छह लोगों को इसकी जानकारी देकर घर वापस भेज दिया गया।

Most Popular