होमबिहारBihar Live News - कोडरमा में बक्सर के ट्रेनी डीएसपी गिरफ्तार, हत्या...

Bihar Live News – कोडरमा में बक्सर के ट्रेनी डीएसपी गिरफ्तार, हत्या की FIR, मृतक के पिता का आरोप- आपसी रंजिश में मेरे बेटे की हुई हत्या

बिहार के बक्सर में तैनात ट्रेनी डीएसपी आशुतोष कुमार और उसके दो दोस्तों को कोडरमा पुलिस ने गिरफ्तार कर शनिवार को जेल भेज दिया। पुलिस ने ट्रेनी डीएसपी की सर्विस रिवाल्वर से गोली चलने और पटना के निखिल रंजन नामक युवक की मौत के मामले में यह कार्रवाई की। पुलिस ने निखिल के पिता के आवेदन पर डीएसपी समेत तीन युवकों पर हत्या की एफआईआर दर्ज की है।

क्या है मामला:

ट्रेनी डीएसपी आशुतोष कुमार कार से अपने तीन दोस्तों के साथ घूमने के लिए कोडरमा पहुंचा। चंदवारा थाना क्षेत्र स्थित जवाहर घाटी में तिलैया डैम के किनारे नौ जुलाई की शाम करीब चार बजे सेल्फी लेते समय उसकी सर्विस रिवाल्वर से गोली चली जो उसके साथ मौजूद निखिल रंजन को लगी जिससे उसकी मौत हो गई। निखिल के पिता ऋषिदेव प्रसाद सिंह ने इस मामले में थाने में आवेदन देकर डीएसपी और उनके दो अन्य दोस्तों पर नामजद प्राथमिकी दर्ज कराई। पुलिस ने डीएसपी और दोनों युवकों को गिरफ्तार कर 10 जुलाई को कोडरमा जेल भेज दिया। निखिल पटना के बेउर थाना क्षेत्र का निवासी था। उसने इसी साल एमबीए किया था। गिरफ्तार डीएसपी आशुतोष कुमार रोहतास जिले के चेनारी, सौरव कुमार बेउर और इंजीनियर सूरज कुमार कोडरमा के निवासी हैं।

एसपी ने आरोपियों से की पूछताछ:

घटना की सूचना पाकर एसपी डॉ.एहतेशाम वकारीब कोडरमा थाना पहुंचे। उन्होंने शुक्रवार की रात करीब 11:30 बजे आरोपी प्रशिक्षु डीएसपी आशुतोष कुमार और उसके दोस्तों सौरभ तथा सूरज से अलग-अलग पूछताछ की। इसके बाद उन्होंने डीएसपी की कार में पड़े निखिल रंजन के शव को भी देखा।

रात में पहुंचे मृतक के परिजन:

घटना की जानकारी मिलते मृतक के पिता गया से और उनके भाई समेत अन्य परिजन पटना से सीधे कोडरमा थाना पहुंचे। बेटे का शव देखते ही एसआई पिता फफक-फफक कर रोने लगे। निखिल के परिवार के सभी लोग नौ जुलाई की रात करीब 12 बजे कोडरमा थाना में मौजूद थे। इसी दौरान उन्होंने मामला दर्ज कराया।

तीन सदस्यीय मेडिकल बोर्ड ने किया पोस्टमार्टम:

निखिल रंजन के शव का पोस्टमार्टम कोडरमा सदर हॉस्पिटल में तीन सदस्यीय मेडिकल बोर्ड ने किया। डीसी आदित्य रंजन के निर्देश पर प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी खाद्य सुरक्षा पदाधिकारी सुबीर रंजन इस दौरान मौजूद रहे। पोस्टमार्टम की वीडियोग्राफी भी कराई गई। पोस्टमार्टम के लिए बनाई गए बोर्ड में डॉ. आर कुमार, डॉ.आरपी शर्मा और डॉ.अजय सेठ शामिल थे।

आरोपी डीएसपी ने नहीं की बात:

प्रशिक्षु डीएसपी आशुतोष कुमार से मीडिया ने बात करना चाहा लेकिन वह चुप रहा। उसने कुछ भी कहने से मना कर दिया। डीएसपी और उसके दोनों दोस्तों की कोरोना जांच और मेडिकल कराने के बाद जेल भेज दिया गया।

सर्विस रिवॉल्वर, कार और मोबाइल जब्त:

कोडरमा पुलिस ने घटना के बाद प्रशिक्षु डीएसपी आशुतोष कुमार की सर्विस रिवाल्वर, ब्रेजा कार और निखिल और आरोपियों के मोबाइल फोन को जब्त कर लिया है।

डीएसपी ने पुलिस को बताया:

डीएसपी ने पुलिस को बताया कि उसका दोस्त सौरभ कुमार उसकी सर्विस रिवॉल्वर लेकर एक्शन से फोटो खिंचवा रहा था। इसी दौरान अचानक गोली चल गई और  निखिल को लग गयी। निखिल को घायलावस्था में डीएसपी आशुतोष,सौरभ लेकर पहले एक निजी हॉस्पिटल और फिर सीधे कोडरमा थाना पहुंचे। इस बीच निखिल की मौत हो गयी थी।

Most Popular