2.20 अरब चुनाव खर्च का हिसाब जिलों में अटका, महालेखाकार ने जताई आपत्ति

election commission

पिछले कई चुनाव के खर्चों का हिसाब नहीं देने के कारण इस विधानसभा चुनाव की राशि अटक सकती है। ऐसे में चुनाव का संचालन अधिकारियों के लिए कड़ी चुनौती बन जाएगी। कई जिलों ने पिछले चुनावों के लिए मिली राशि का डीसी बिल जमा नहीं किया है। महालेखाकार ने इस पर आपत्ति जतायी है।
रिपोर्ट के मुताबिक वर्ष 2003 से वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव तक कुल 2.20 अरब का हिसाब जिलों में लटका हुआ है। चुनाव के लिए आवंटित इस राशि का उपयोग एडवांस के तौर पर तो किया गया, लेकिन जिला निर्वाचन अधिकारियों ने उसका प्रमाणिक भुगतान विपत्र (डीसी बिल) अभी तक प्रस्तुत नहीं किया है। महालेखाकार ने कहा है कि राज्य के सभी जिलों में एडवांस के तैार पर खर्च की गई राशि का डीसी बिल अभी तक बाकी है। यह बकाया एक दो साल का नहीं बल्कि वर्ष 2003 के चुनाव से वर्ष 2019 तक आयोजित हुए लोकसभा चुनाव तक के हैं।
महालेखाकार की आपत्ति के बाद निर्वाचन विभाग ने जिला निर्वाचन अधिकारियों को कड़ा निर्देश जारी किया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एचआर श्रीनिवास ने जिलों को चेतावनी दी है। कहा है कि महालेखाकार की आपत्ति का निराकरण नहीं हुआ, यानी चुनाव मद की करीब सवा दो अरब रुपये का डीसी विपत्र नहीं जमा किया गया तो विधानसभा चुनाव के आवंटन के बावजूद उस राशि की निकासी संभव नहीं हो पाएगी। एक सप्ताह के भीतर बकाये राशि का डीसी बिल जमा करें।

जिला निर्वाचन अधिकारियों की जवाबदेही तय
इतना ही नहीं, मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने कहा है कि राज्य में राशि आवंटन व निकासी के लिए सीएफएमएस प्रणाली लागू है। ऐसे में यदि विधानसभा चुनाव के लिए राशि निकासी में कोई परेशानी आती है, जो इसके लिए संबंधित निर्वाचन अधिकारी को जिम्मेवार माने जाएंगे। मुख्य निर्वाचन अधिकारी के इस कड़े निर्देश के बाद जिलों में हड़कंप है। जिलों में चुनाव मद की राशि की पुरानी फाइलें खोल दी गई हैं।  

किस जिले ने कितने का नहीं दिया डीसी बिल
अररिया रु.63403254, अरवल रु.2425347,औरंगाबाद रु.72153000,बांका रु.34805655, बेगूसराय रु.57664000, भागलपुर रु. 47827102, भोजपुर रु. 86026093, बक्सर रु. 48210328, दरभंगा रु. 70053250, पूर्वी चंपारण रु. 93075230, गया रु. 119761100, गोपालगंज रु. 46421203, जमुई रु.48464000, जहानाबाद रु.34636465, कैमूर रु. 50532267, कटिहार रु. 39211700, खगड़िया रु.45247000, किशनगंज रु. 40650000, लखीसराय रु. 22397213, मधेपुरा रु. 4750800, मधुबनी रु. 60946800, मुंगेर रु. 22139899,मुजफ्फरपुर रु. 102070412, नालंदा रु. 45338366, नवादा रु.61827114, पटना रु. 349741312, पूर्णिया रु. 44009500, रोहतास रु. 56972298, सहरसा रु. 27601000, समस्तीपुर रु. 113316056, सारण रु. 26892778, शेखपुरा रु. 24263000, शिवहर रु. 10536500, सीतामढ़ी रु. 73235520, सीवान रु. 16137570, सुपौल रु. 409444087, वैशाली रु. 34506266 व पूर्वी चंपारण 570001.78