स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय का बयान, आरजेडी-कांग्रेस के मिलावटी गठजोड़ का चेहरा हुआ बेनकाब

bihar assembly elections  mangal pandey

स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा कि बिहार की एनडीए सरकार की उपलब्धियों की फेहरिस्त लंबी है। आरजेडी-कांग्रेस के मिलावटी गठजोड़ के झूठ की लिस्ट अब जनता के समक्ष उजागर हो चुकी है। 

रविवार को भाजपा कार्यालय में पत्रकारों से बातचीत में मंत्री ने कहा कि 15 वर्ष पहले राज्य के अस्पतालों में सूई और रूई तक नही मिलती थी और आज अस्पतालों में अंग प्रत्यारोपण जैसे जटिल कार्य सम्पन्न हो रहे हैं, 300 दवाएं मुफ्त में दी जाती है। फर्क साफ है तब और अब के शासन में। साल 2002-03 के आसपास बिहार का स्वास्थ्य बजट 278 करोड़ हुआ करता था जो आज लगभग 10 हजार करोड़ के करीब पहुंच चुका है। 15 साल में विभाग के बजट में 45 गुना वृद्धि हुई है। क्या इस तथ्य से मिलावटी गठजोड़ मुंह मोड़ लेगा?

मंगल पांडेय ने कहा कि राजद के राजपाट में 6 सरकारी और दो प्राइवेट अस्पताल थे, लेकिन आज 12 सरकारी और 5 प्राइवेट सहित 17 मेडिकल कॉलेज अस्पताल हो गए हैं। पिछले तीन वर्षों के भीतर पारा मेडिकल और चिकित्सकों के मामले में 21 हजार 530 नियुक्तियां हुई हैं। अभी  12,621 पदों पर नियुक्ति की प्रक्रिया चल रही है।