Homeदेशसीमा विवादः सिक्किम के हर नागरिक को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दे...

सीमा विवादः सिक्किम के हर नागरिक को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दे रहे हैं रिटायर्ड सैन्यकर्मी, ये है वजह

नई दिल्ली. नाथुला (Nathula) पर चीन (China) को शिकस्त देने के बाद सिक्किम (Sikkim) के हर गांव में लोग तैयार हैं कि उन्हें क्या करना चाहिए और क्या नहीं. सिक्किम के हर गांव का नागरिक अपने आपको को मजबूत कर सके इसलिए सेना के रिटायर्ड जवानों ने खुद मोर्चा संभाल लिया है. वे गांव के लोगों को सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग दे रहे हैं.

सिक्किम के असमलिंगजे गांव में पिछले छह महीनों से इसी तरीके से सेना के रिटायर हो चुके सैनिकों ने स्थानीय नागरिकों को सेल्फ डिफेंस ट्रेनिंग देने का बीड़ा उठाया है. इस ट्रेनिंग में महिलाएं और पुरुष दोनों शामिल हैं. इन्हें बताया जाता है कि कैसे जब बिना हथियार की लड़ाई हो तो सामने दुश्मन को कैसे चित किया जाता है. ठीक वही पैतरा जो चीन सीमा पर अपनाता है. इस ट्रेनिंग में खासकर महिलाएं बढ़-चढ़कर हिस्सा ले रही हैं.

सीमा विवाद के बाद बढ़ा ट्रेनिंग का दौर
इस ट्रेनिंग कार्यक्रम को चलाने वाले रिटायर्ड सैन्य कर्मी एनके राय का कहना है कि वो जरूरत पड़ने पर इस कोर्स को आधुनिक भी बनाते रहते हैं साथ ही गांव के हर एक वर्ग को लोगों को इससे जोड़े रखना चाहते हैं. जबसे भारत चीन-विवाद (India-China Border Tension) सामने आया है तो ये ट्रेनिंग का दौर और ज्यादा बढ़ गया है. गांव के लोग चौकन्ने हैं और सैन्य अभियान का अनुभव ले चुके सैन्य कर्मी ये सुनिश्चित करना चाहते हैं कि भी आपातकालीन स्थिति का सामना करने के लिए गांव का हर नागरिक तैयार हो.ये भी पढ़ेंः- Exclusive: चीन की हर चाल से वाकिफ है सिक्किम के हर गांव, पैतरों को लेकर हुए चौकन्नें


हर परिस्थिति के लिए लोगों को रहना होगा तैयार
पूर्व सैन्यकर्मी एपी राय का कहना है कि हम यही चाहते हैं कि गांव के लोगों को बेहतर फिजिकल फिटनेस ट्रेनिंग मिले ताकि वो मजबूत हो सकें और पूर्व सैनिकों के पास इससे जुड़ी सारी विशेषताएं हैं. बेशक इनके पास हथियार और अन्य उपकरण न हो लेकिन उन जैसी चीजों को देकर ये गांव के युवाओं को आपातकालीन परिस्थितियों के बारे में अवगत कराते हैं. दरसल सिक्किम में पूर्व सैनिकों का नेटवर्क पूरे राज्य में है और इसी वजह से सिक्किम के हर गांव में ये प्रकिया शुरू की गई है ताकि लोग मजबूत हो सकें और हर परिस्थितियों के लिए तैयार रहें.

Most Popular