सीएम नीतीश ने फिर दोहराया, बिहार में शराबबंदी से कोई समझौता नहीं

bihar cm nitish kumar

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सोमवार को एक बार फिर से ऐलान किया कि बिहार में जब तक हमारी सरकार है, शराबबंदी से कोई समझौता नहीं कर सकते। राज्य की महिलाओं और युवाओं की मांग पर हमने शराबबंदी कानून लागू किया। इस कानून को लागू होने के बाद कुछ लोगों को परेशानी हुई, वही लोग अनाप-शनाप बोल रहे हैं। बाकि सभी लोग इससे खुश हैं। राजधानी पटना में आयोजित जेडीयू के निश्चय संवाद के दौरान सीएम नीतीश ने ये बातें कहीं।

सीएम नीतीश ने कहा कि प्रशासन के अंदर और बाहर कुछ लोग ऐसे हैं, जो गड़बड़ करते हैं, उन पर हमारी नजर है। नीतीश ने कहा कि शराबबंदी के बाद अवैध काम में लगे सरकारी अधिकारियों और कर्मियों पर कार्रवाई हुई है। अब तक 322 सरकारी सेवकों पर प्राथमिकी हुई है, जबकि 159 लोगों को बर्खास्त किया गया है। 

वहीं सीएम नीतीश ने बताया कि भागलपुर दंगा में लोग कुछ नहीं कर पाए थे। हमारी सरकार आते ही हमने पूरे मामले की जांच करवाई और मृतक के आश्रित को 5000 प्रति व्यक्ति के हिसाब से पेंशन दिया, मकान की क्षतिपूर्ति की गई। नीतीश ने लालू का बिना नाम लिए पूछा कि आपने क्या किया। भागलपुर दंगा कब हुआ? भागलपुर दंगा पीड़ितों के लिए आपने कुछ किया नहीं किया। जब 15 साल के बाद हमें मौका मिला तो हमने भागलपुर के दंगा पीड़ितों की मदद की। याद कीजिए बोलिए मत, दंगा पीड़ितों की मदद हमने की आपने नहीं।