Homeबिहारसहरसा- सुपौल रेलखंड में ट्रेन की गति होगी दोगुनी, 1 घंटा का...

सहरसा- सुपौल रेलखंड में ट्रेन की गति होगी दोगुनी, 1 घंटा का सफर 30 मिनट में होगा पूरा , स्पीड ट्रायल रहा सफर

ट्रेन में सहरसा से सुपौल जाने वाले यात्रियों का सफर हो जाएगा आसान, आने वाले अगले एक से डेढ़ महीनों में सहरसा सुपौल रेल खंड में ट्रेन की गति दोगुनी स्पीड हो जाएगी। बता दें कि वर्तमान में सहरसा से सुपौल जाने में एक घंटा 10 मिनट लगता है। जानकारी के अनुसार बताया गया है कि इस ट्रेन की स्पीड को बढ़ाकर 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चलेगी। जिससे एक घंटा 10 मिनट का सफर मात्र 30 से 35 मिनट में पूरा हो जाएगा। ऐसे में वैसे यात्री जो नौकरी पेशा,कारोबारी, आदि यात्रियों को अधिक फायदा होगा। समस्तीपुर मंडल के डीआरएम आलोक अग्रवाल, सीनियर डीईएन कोर्डिनेशन आर एन झा और सीनियर डीईएन थ्री मयंक अग्रवाल के निर्देश पर सहरसा-सुपौल रेलखंड पर ट्रेन की स्पीड बढ़ाने को लेकर कवायद तेज है।

16 मिनट में सहरसा से सुपौल 28 किलोमीटर की दूरी तय की गई
शुक्रवार को सहरसा सुपौल रेल खंड में ट्रेन का स्पीड ट्रायल किया गया। जिसमें स्पीड ट्रायल के दौरान 110 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से इंजन का ट्रायल किया गया। जिसमें सिर्फ 16 मिनट में सहरसा से सुपौल 28 किलोमीटर की दूरी तय की गई। इस ट्रायल के दौरान सहायक मंडल अभियंता किशोर कुमार भारती, सीनियर सेक्शन इंजीनियर रेलपथ सुनील कुमार, टीआई किशोर कुमार गुप्ता और लोको इंस्पेक्टर जेके सिंह थे। सुपौल में पीडब्लूआई अजय कुमार थे।

62 किलोमीटर वाले सहरसा-राघोपुर रेलखंड पर स्पीड बढ़ने का फायदा
सहरसा से राघोपुर तक लूप लाइन में ट्रेनों की स्पीड बढ़कर दोगुनी हो गई है। लूप लाइन में 15 की स्पीड से चलने वाली ट्रेन की स्पीड बढ़कर 30 किमी प्रति घंटे हो गई है। 62 किलोमीटर वाले सहरसा-राघोपुर रेलखंड पर स्पीड बढ़ने का फायदा यह हुआ है कि छह रेलवे स्टेशनों पर हर ट्रेन ढाई से तीन मिनट पहले पहुंचने लगी है। जिससे 15 से 20 मिनट समय की बचत हर ट्रेन के परिचालन पर होने की बात कही जा रही है। बता दें कि सहरसा-राघोपुर रेलखंड में लूप लाइन में कुल छह स्टेशन है। इन स्टेशनों पर अब 30 की स्पीड में ट्रेन प्रवेश करने लगी है।

Most Popular