Homeबिहारसब्जियों को संरक्षित करने के लिए बनेगा वेजिटेबल पैक हाउस, कईं दिनों...

सब्जियों को संरक्षित करने के लिए बनेगा वेजिटेबल पैक हाउस, कईं दिनों तक सब्जियां नहीं होगी खराब, किसानो को होगा फायदा…

बिहार में बड़ी संख्या में सब्जी व फलों का उत्पादन होता है। जिससे प्रदेश ही नहीं बल्कि बल्कि देश के कई राज्यों तक बिहार की सब्जियों व फलों का निर्यात होता है लेकिन कभी-कभी ऐसा दृश्य देखने को मिलता है जिससे राज्य में फलों व सब्जियों बच जाती है तो बार सब्जियां बर्बाद होने लग जाता है। जिससे किसानों को काफी नुकसान होता है। इस समस्या को देखते हैं राज्य सरकार ने राजधानी में वेजिटेबल और फ्रूट पैक हाउस निर्माण करने का निर्णय लिया है।

एक साल में पैक हाउस बनकर तैयार हो जाएगा   यह पैक हाउस मीठापुर स्थित कृषि अनुसंधान संस्थान में इसका निर्माण होगा। इसके लिए उद्यान निदेशालय का एक कंपनी से एमओयू हो चुका है। एक साल में पैक हाउस बनकर तैयार हो जाएगा। पैक हाउस के माध्यम से फल और सब्जियों की पैकेजिंग के साथ संरक्षित कर सकेंगे। पैकेजिंग कर फल और सब्जियों को एक से डेढ़ महीने तक सुरक्षित रखा जा सकेगा।

किसानों को होगा फायदा                               बता दें कि पैक हाऊस के माध्यम से फल और सब्जियों की पैकेजिंग कर संरक्षित करने की तकनीक के साथ किसान अपने उत्पाद की पैकेजिंग करा सकेंगे। खासकर आम, लीची, सब्जियां, मसाला और मशरूम की पैकेजिंग पैक हाऊस में हो सकेगी। अभी किसान अपने उत्पाद की पैकेजिंग के लिए लखनऊ और पश्चिम बंगाल भेजते हैं। पैक हाउस का निर्माण एपीडा के मानकों के अनुरूप हो रहा है।

सब्जियां खराब होने से बचेगी
किसान अब आसानी से पैकेजिंग अपने ही शहर में करा सकेंगे। पैकेजिंग की सुविधा होने से फल और सब्जियों के खराब होने की समस्या से मिलेगी निजात। किसानों को अब सब्जियों और फलों को पैकेजिंग के लिए बाहर नहीं भेजना पड़ेगा, ट्रांसपोर्टेशन चार्ज बचेगा, साथ ही तकनीकी जानकारी मिलेगी।

Most Popular