वर्चुअल रैली में नीतीश का भाषण उबाऊ रहा, सोते नजर आए ललन सिंह: शिवानंद

वर्चुअल रैली में नीतीश का भाषण उबाऊ रहा, सोते नजर आए ललन सिंह: शिवानंद

राजद उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने कहा है कि सोमवार को वर्चुअल रैली में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के भाषण में कोई मौलिकता नहीं थी। जब उनके प्रतिद्वंद्वी नरेंद्र मोदी हुआ करते थे, तब 2014-15 के  उनका भाषण पंद्रह-बीस मिनटों का हुआ करता था। लेकिन आज-कल सीएम का भाषण लंबा और उबाऊ हो गया है। सोमवार को वर्चुअल रैली में उन्होंने दो घंटा 53 मिनट तक भाषण दिया। आरोप लगाया कि ललन सिंह मंच पर सोते नजर आए।

उन्होंने कहा कि सीएम जब बोल रहे थे तो उनके सामने नरेंद्र मोदी नहीं बल्कि तेजस्वी यादव थे। नरेंद्र मोदी के सामने तो नीतीश कुमार आत्मविश्वास से लबरेज दिखाई देते थे, लेकिन कल डगमगाए हुए लगे। दावा किया कि इस लंबे भाषण में सीएम में कभी भी आत्मविश्वास नज़र नहीं आया। अपने भाषण में वे अपने ही द्वारा स्थापित मर्यादा का उल्लंघन करते हुए परिवार के अंदर की बातों को ही उजागर कर रहे थे। 

कहा, जब नीतीशजी के प्रतिद्वंद्वी नरेन्द्र मोदी होते थे तब भी मैंने कहा था कि नीतीश कुमार बोली में नरेंद्र मोदी पर भारी पड़ रहे हैं। नीतीश कुमार उनके मुकाबले कहीं बेहतर ढंग से अपनी बातों को रख रहे थे।  नीतीश कुमार की राजनीति का वह चरम था। वही काल था जब देश को नीतीश कुमार में प्रधान मंत्री की छवि दिखाई दे रही थी।