राहत : झारखंड में दो सितंबर से तीन दिन तक बारिश के आसार

राहत : झारखंड में दो सितंबर से तीन दिन तक बारिश के आसार

झारखंड के विभिन्न इलाके में मंगलवार से हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश और कहीं-कहीं मेघ गर्जन के साथ वज्रपात भी होगा। दो सितम्बर को मध्य झारखंड के रांची, खूंटी, रामगढ़, बोकारो, हजारीबाग, गुमला, उत्तर पूर्वी झारखंड के देवघर, गिरिडीह, गोड्डा, जामताड़ा, पाकुड़, साहेबगंज धनबाद, दुमका, पूर्वी और पश्चिमी सिंहभूम में एक से दो स्थान पर भारी बारिश के आसार हैं। 

तीन सितम्बर को भी कई इलाके में हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होगी। मौसम विज्ञान विभाग के अभिषेक आनंद ने बताया कि अभी बंगाल की खाड़ी में साइक्लोनिक सरकुलेशन कायम है। इसका प्रभाव मंगलवार से झारखंड में दिखने लगेगा। हालांकि सोमवार को दोपहर बाद से ही आसमान में बादल छाने लगे थे। इससे पूर्व दिन में खिली धूप के साथ उमस भी लोगों ने महसूस किया। बारिश होने से लोगों को उमस से राहत मिलेगी। बारिश नहीं होने से काफी गरमी बढ़ गई है। आंकड़े के मुताबिक इस मानसून में बारिश सामान्य से आठ फीसदी कम हुई है। बारिश होने से इसकी भी भरपाई होगी। 

राज्य में सामान्य से आठ फीसदी कम हुई बारिश 
राज्य में मानसून ढलान पर है। पिछले 24 घंटे में राजधानी रांची समेत राज्य भर में मानसून कमजोर रहा है। सितम्बर माह में विशेष परिस्थिति को छोड़ कर अब अगस्त माह की तरह नियमित रूप से बारिश की संभावना कम है। झारखंड में मानसून आरंभ होने के साथ ही एक जून से 31 अगस्त तक 754.4 मिमी बारिश हुई। हालांकि इस दौरान सामान्य रूप से 820 मिमी बारिश होती है। इस लिहाज से इस बार मानसून में अभी तक वर्षापात  सामान्य से आठ फीसदी कम है। राज्य के चार जिले में सबसे ज्यादा, 11 में सामान्य और नौ जिले में सामान्य से कम बारिश रिकॉर्ड की गई है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक आने वाले समय में अगर आसमान में सिस्टम बनता है तो संभव है कि कम बारिश की क्षतिपूर्ति हो जाए।