होमबिहारराजधानी को ट्रैफिक से मिलेगी मुक्ति, 6.7 करोड़ की लागत से बनाये...

राजधानी को ट्रैफिक से मिलेगी मुक्ति, 6.7 करोड़ की लागत से बनाये जा रहे फॉरलेन

बिहार के राजधानी पटना में ट्रैफिक जाम एक नया सिर दर्द बनते जा रहा है। ट्रैफिक जाम से मुक्ति पाने के लिए बिहार सरकार एक नया फोर लेन बनाने जा रही है। यह इनकम टैक्स से मंदिरी नाले के ऊपर से फोरलेन बनेगी। बताया जा रहा है कि यह लेन बेली रोड निकलेगी । इस फोरलेन का निर्माण अलग-अलग भागों में किया जा रहा है। इस सड़क के निर्माण के लिए 2 साल लगने की उम्मीद है तो वही इस फोर लेन को बनाने के लिए सरकार 67.11 करोड़ रुपया खर्च कर रही है। इस सड़क का लंबाई करीब 1.25 किमी होगा। इससे शहर को एक वैकल्पिक मार्ग मिलेगा।

आपको बता दें कि यह मार्ग दीघा कुर्जी मोर होते हैं जेपी गंगा पर जाने के लिए आसान हो जाएगा। इस नाले पर निर्माण हो रहे फोरलेन का डिजाइन पूर्ण रूप से आधुनिक डिजाइन के साथ साथ शहर की खूबसूरती में और भी निखार आएगी। इसमें आधुनिक स्ट्रीट लाइट के साथ साथ साथ सड़क के दोनों ओर फुटपाथ का भी निर्माण किया जाएगा। इसकी संरचना पूर्ण रूप से आधुनिक खूबसूरत होगी ।

मंदिरी नाले से ट्रैफिक का बोझ होगा कम

स्मार्ट सिटी मिशन अंतर्गत मंदिरी नाले पर सड़क का निर्माण होगा। आज दोपहर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने इसका शिलान्यास किया है। यह सड़क दो लेन में इनकम टैक्स गोलंबर से बांस घाट काली मंदिर तक बनेगी। सड़क की लंबाई 1289 मीटर होगी। वहीं सड़क की चौड़ाई 5.5 मीटर मंदिर नाले पर होगी। इसके निर्माण कार्य पर प्रस्तावित 67.11 करोड़ रुपए खर्च होने हैं। सड़क के दोनों ओर फुटपाथ, वेंडिंग जोन, स्ट्रीट स्केपिंग जोन, ग्रीन बफर जोन विकसित किया जाएगा। इस नाले की संरचना ट्विन बैरल आरसीसी बॉक्स ड्रेन होगी। इसके निर्माण के बाद उसके ऊपर में 5.5-5.5 मीटर की दो लेन सड़क बनेगी। मंदिरी नाला पटना शहर के प्रमुख नालों में से एक है। अब इस योजना के तहत पटना नगर निगम के वार्ड संख्या 26 और वार्ड संख्या 27 में आयकर गोलंबर से काली मंदिर तक 1289 मीटर लंबाई में नाले को ढक कर एक वैकल्पिक मार्ग तैयार किया जाएगा। जिससे अशोक राज पथ और न्यू डाक बंगला रोड के बीच उत्तर-दक्षिण दिशा में भी सुगम यातायात परिचालन किया जाएगा।

Most Popular