Homeमनोरंजनयोगी से बोले सुनील शेट्टी- हम सब ड्रग्स नहीं लेते, बॉयकॉट बॉलीवुड...

योगी से बोले सुनील शेट्टी- हम सब ड्रग्स नहीं लेते, बॉयकॉट बॉलीवुड बंद करवाने के लिए पीएम से बात कीजिए

बॉलीवुड ऐक्टर सुनील शेट्टी, जैकी श्रॉफ और सिंगर कैलाश खेर ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से गुरुवार को मुलाकात की। इस दौरान बोनी कपूर और सोनू निगम जैसे कई और सिलेब्स मौजूद थे। उनके मिलने का मकसद नोएडा के फिल्मसिटी में शूटिंग और इनवेस्टमेंट पर चर्चा करना था। इस दौरान सुनील शेट्टी ने यूपी के सीएम से कुछ ऐसी गुजारिश की कि वहां बैठे जैकी श्रॉफ भी उनकी पीठ थपथपाते दिखे। सुनील शेट्टी ने योगी आदित्यनाथ से कहा कि वही बॉलीवुड बॉयकॉट ट्रेंड को खत्म कर सकते हैं। इंडस्ट्री में हर कोई दिनभर ड्रग्स नहीं लेता। उन्होंने यूपी सीएम के कहा कि प्रधानमंत्री से भी कहें कि बॉयकॉट बंद करा दें।

लोग सोचते हैं गंदी जगह है बॉलीवुड
सुनील शेट्टी ने यूपी के सीएम से जो कहा उसकी सोशल मीडिया पर तारीफ हो रही है। वह बोले, ऑडियंस को वापस थिएटर में बुलाना बहुत जरूरी है। ये हैशटैग जो चल रहा है, #BoycottBollywood आपके कहने से ही रुक सकता है। एक गंदी मछली तो कहीं भी होती ही है। लेकिन उसमें हम सबको आप नहीं गिन सकते कि हम सब ऐसे ही हैं। फिलहाल दर्शकों के दिमाग में यही है कि हिंदी सिनेमा यानी अच्छी जगह नहीं है। हमने अच्छी-अच्छी फिल्में की हैं। मैं बॉर्डर जैसी फिल्म में भी था। काफी अच्छी फिल्मों में मैं था। लेकिन हमारा जो परसेप्शन चल रहा है कि बॉयकॉट बॉलीवुड, उसको कैसे हटाया जाए…

कलंक हटना जरूरी
ट्विटर पर ट्रेंड चलता है, उसे कैसे रोका जा सकता है। अगर इसे रोका जाए तो… बेशक यूपी जैसी जगह नहीं है। यह हिंदी सिनेमा का हार्टलैंड है। मैं अगर सुनील शेट्टी बना तो इसी यूपी की वजह से। सुनील शेट्टी ने यूपी के सीएम से कहा, अगर आप लीड लेंगे तो यह जरूर हो सकता है। हमारे ऊपर जो कलंक लगा है वो हटना जरूरी है। मुझे लगता है कि सब इस बात से सहमत होंगे। बहुत स्ट्रॉन्ग इमोशन है मेरा। बोलने में बहुत दुख होता है कि यह लांछन लगा है। यह कहते-कहते सुनील शेट्टी इमोशनल हो गए।

प्रधानमंत्री से कहिए…
उन्होंने आगे कहा, 99 फीसदी लोग हम वैसे हैं नहीं। हम दिनभर ड्रग्स नहीं लेते। हम दिनभर गलत काम नहीं करते। अच्छे काम से भी हमेशा जुड़े हैं। भारत को अगर बाहर के देशों से भारतीयों से किसी ने जोड़ा है तो वो है म्यूजिक और कहानियां। अगर हम उस पर ध्यान दें और आदरणीय प्रधानमंत्रीजी से आप ये कहें तो बहुत फर्क पड़ सकता है सर। 

Most Popular