मुजफ्फरपुर: दुकानदार की हत्या पर बवाल, पुलिस प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी, टायर जला प्रदर्शन

                              -

मुजफ्फरपुर-देवरिया रोड में सोनबरसा के पास अपराधियों की गोलीबारी में घायल मो. खुर्शीद की इलाज के दौरान सोमवार देर रात मौत हो गई। उसकी हत्या से गुस्साए लोगों ने मंगलवार को जमकर बवाल काटा। देवरिया रोड को जाम कर प्रदर्शन किया। सड़क पर आगजनी भी की।

मौके पर जाकर करजा पुलिस ने लोगों को समझाया। इसके बाद लोगों ने जाम हटाया। कांटी थानाध्यक्ष कुंदन कुमार ने बताया कि मृतक के पिता के बयान पर अज्ञात बदमाशों पर एफआईआर की गई है। जल्द अपराधियों का पता लगाकर गिरफ्तारी की जाएगी। इलाज के दौरान खुर्शीद की मौत की खबर मिलते ही सुबह आसपास के लोग मृतक के दरवाजे पर जुट गए। आक्रोशित लोगों ने पुलिस प्रशासन पर आपराधिक घटनाओं को रोक पाने में विफल होने का आरोप लगाते हुए बांस-बल्ला लगाकर व टायर जलाकर रोड जाम कर दिया।

आक्रोशित ग्रामीण अपराधियों की जल्द गिरफ्तारी, रोड में आपराधिक घटनाओं की रोकथाम व मृतक के परिजनों को मुआवजा देने की मांग कर रहे थे। लोगों का कहना था कि देवरिया रोड में लगातार आपराधिक घटनाएं होती रहती हैं। पिछले कुछ वर्षों में लूटपाट के दौरान अपराधी कई लोगों को गोली भी मार चुके हैं। रात में इस रोड से होकर गुजरना मुश्किल हो गया है।

मृतक के पिता मोहम्मद जिलानी ने बताया कि किसी से कोई दुश्मनी या झगड़ा नहीं था। खुर्शीद रोज बैरिया से रक्सा आता-जाता था। पुलिस की प्रारंभिक छानबीन में लूटपाट के दौरान गोली मारे जाने की संभावना जताई गई है। हालांकि अन्य बिंदुओं पर भी छानबीन की जा रही है।

मृतक के परिजनों को मिले मुआवजा
खुर्शीद की हत्या की जानकारी मिलने पर जनप्रतिनिधि व विभिन्न दलों के नेताओं ने परिजनों को ढांढ़स बंधाया। राजद महासचिव इसरायल मंसूरी, राजपा नेता अनय राज, रेहान रजा ने परिजनों से मिलकर सांत्वना दी। परिजनों का कहना था कि खुर्शीद के दो छोटे बच्चे हैं। अब उनकी परवरिश कैसे होगी? यही चिंता है।