मानसून के बाद झारखंड में बड़ा नक्सल विरोधी अभियान चलेगा 

मानसून के बाद झारखंड में बड़ा नक्सल विरोधी अभियान चलेगा 

राज्य में भाकपा माओवादियों और दूसरे स्पलिंटर ग्रुप के खिलाफ टारगेट बेस्ड अभियान चलाया जाएगा। राज्य पुलिस मुख्यालय में डीजीपी एमवी राव ने नक्सल अभियान समेत अन्य मामलों में समीक्षा बैठक की। बैठक के दौरान सीआरपीएफ के साथ बेहतर समन्वय स्थापित कर मानसून के बाद बड़ा नक्सल विरोधी अभियान चलाने की रणनीति बनी। 

बैठक के दौरान जिलों में नक्सली संगठनों की गतिविधि, उनके खिलाफ चलाए गए अभियान, स्पलिंटर ग्रुप के खिलाफ की गई त्वरित कार्रवाई पर भी चर्चा हुई। डीजीपी एमवी राव ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए जिलों के एसपी और जोनल डीआईजी स्तर के अधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि पीएलएफआई समेत अन्य स्पलिंटर ग्रुप के विरुद्ध तत्परतापूर्ण कार्रवाई करें। बैठक के क्रम में सभी जिलों के एसपी और सीआरपीएफ के पदाधिकारियों एवं जोनल डीआईजी के द्वारा बारी-बारी से अपने-अपने क्षेत्राधीन नक्सल गतिविधियों सहित नक्सलियों के विरुद्ध कारगर अभियान के संचालन, अपेक्षित रणनीति एवं प्राप्त सफलताओं की ब्रीफिंग की गई। बैठक के दौरान एडीजी सीआईडी अनिल पालटा, एडीजी विशेष शाखा मुरारीलाल मीणा, आईजी मानवाधिकार नवीन कुमार सिंह, आईजी प्रोविजन सुमन गुप्ता समेत पुलिस मुख्यालय, सीआरपीएफ व जगुआर के अधिकारी मौजूद थे।

आईईडी बड़ी चुनौती : बैठक के दौरान नक्सलियों के द्वारा जगह-जगह पर लगाए गए आईईडी पर भी चर्चा की गई। बैठक के दौरान यह मामला उठा कि बारिश के दौरान नक्सलियों ने कई जगह आईईडी लगाकार पुलिस बलों को निशाना बनाने की योजना बनायी है। आईईडी से निपटने के लिए भी पुलिस मुख्यालय में अधिकारियों ने रणनीति बनायी है। मानसून के बाद अभियान की चुनौतियों पर भी लंबी चर्चा हुई।