महाराष्ट्र के किसान ने बनाया वेदर स्टेशन, इससे मिलती है मौसम की सटीक जानकारी

अहमदनगर. कई बार बेमौसम बारिश, सूखा और बाढ़ जैसे प्रकोप किसानों की फसल को चौपट कर देते हैं. इस परेशानी से निजात पाने के लिए महाराष्ट्र के किसान राहुल रसाल ने खुद का ऑटोमेटिक वेदर स्टेशन बनाया है. राहुल अहमदनगर जिले के निघोज गांव में रहते हैं. उनका दावा है कि इस वेदर स्टेशन से करीब 11 किमी के दायरे की 95 प्रतिशत तक मौसम की सटीक जानकारी मिल जाती है. उनके अनुसार इस वेदर स्टेशन से मिली सूचना के आधार पर वो बुवाई से लेकर फसल की कटाई तक की प्लानिंग करते हैं और मौसम से होने वाले संभावित नुकसान से फसल को बर्बाद होने से बचा लेते हैं.

राहुल रसाल के अनुसार इस वेदर स्टेशन को बनाने में 39 हजार रुपये की लागत आई, जिसकी मदद से बारिश, तापमान, नमी, हवा की रफ्तार की जानकारी मिल जाती है. राहुल की माने तो वेदर स्टेशन की मदद से फसलों पर हमला करने वाले कीट की जानकारी भी मिल जाती है, साथ ही इसका अनुमान भी मिलता है कि खेत में कब और कितनी खाद-पेस्टीसाइड डालने की आवश्यकता है. ये सारी चीजें एक ही मॉनिटर पर दर्शाता है. राहुल के अनुसार वेदर स्टेशन की मदद से ही वो अपनी 45 एकड़ की जमीन पर अंगूर, अनार और फल-सब्जी की खेती से लाखों रुपये का मुनाफा कमा रहे हैं.

यह भी पढ़ें: नए कृषि कानून से किसानों को कितना फायदा और कितना नुकसान

राहुल रसाल 19 एकड़ भूमि पर अंगूर, 4 एकड़ भूमि पर सहजन की फली और 15 एकड़ भूमि पर अनार की खेती कर रहे हैं. उनके अनुसार अंगूर की पूरी फसल यूरोप के देशों में सप्लाई हो जाती है.
जिससे काफी मुनाफा मिलता है.