Homeबिहारमशरूम की खेती में बिहार ने किया कमाल, उत्पादन के मामले में...

मशरूम की खेती में बिहार ने किया कमाल, उत्पादन के मामले में बना देश का नंबर एक राज्य

मशरूम की खेती में पिछले कुछ वर्षों से तरक्की कर रहे बिहार के किसानों ने इस बार कमाल कर दिया है। उत्पादन के मामले में बिहार देश में पहले पायदान पर पहुंच गया है। नेशनल हॉर्टिकल्चर बोर्ड की तरफ से जारी हुए आंकड़ों के मुताबिक, मशरूम उत्पादन में बिहार (Bihar) नंबर एक पर है।

नेशनल हॉर्टिकल्चर बोर्ड के आंकड़ों से पता चलता है कि 2021-22 में बिहार में कुल 28000 मीट्रिक टन मशरूम का उत्पादन हुआ, जो देश मे उत्पादित कुल मशरूम का 10.82 फीसदी है। पिछले साल बिहार में कुल 23 हजार मीट्रिक टन मशरूम का उत्पादन हुआ था। वहीं 3 साल पहले राज्य मशरूम उत्पादन के मामले में 13वें पायदान पर था। कृषि विभाग के अधिकारियों का कहना है कि राज्य के लिए यह बड़ी उपलब्धि है, क्योंकि बिहार को पारंपरिक फसलों की खेती के लिए जाना जाता है। हालांकि अब यहां पर खेती में काफी प्रयोग हो रहे हैं और किसानों को सफलता भी मिल रही है।

एक अनुमान के मुताबिक पूर्वोत्तर राज्यों में बिहार के मशरूम की सबसे ज्यादा मांग है। इसके अलावा झारखंड और उत्तर प्रदेश में भी यहां के मशरूम की डिमांड है। कोरोना काल के दौरान मशरूम किसानों को
घाटे का सामना करना पड़ा था क्योंकि बाहर मशरूम नहीं भेजा गया था। इस बार किसानों को अच्छा मुनाफा हुआ है। बाजार भाव में मशरूम डेढ़ सौ से ₹180 किलो तक बिक रहा है। प्रदेश में 60 हजार से अधिक छोटे किसान बटन, ऑएस्टर और दूधिया मशरूम का उत्पादन कर अपनी आजीविका चला रहे हैं।

Most Popular