‘बोले बिहार बदले सरकार’ के नारे के साथ कांग्रेस का बिहार क्रांति सम्मलेन कल से शुरू, पटना से दिल्ली तक बना चुनावी वार रूम

bihar assembly elections  bihar congress  congress bihar kranti maha sammelan   bihar elections 2020

कांग्रेस बिहार में अपने चुनावी अभियान का श्रीगणेश करने जा रही है। पार्टी के बिहार क्रांति वर्चुअल महासम्मेलनों की शुरुआत सोमवार को सुबह 11 बजे पश्चिम चंपारण के बेतिया विधानसभा क्षेत्र से होगी। पहले चरण में उत्तर बिहार के 20 जिलों से इस अभियान की शुरुआत होगी। इन वर्चुअल सम्मेलनों के लिए दिल्ली स्थित पार्टी कार्यालय और पटना में प्रदेश मुख्यालय सदाकत आश्रम में वार रूम बनाए हैं। इसके अलावा पटना के सगुना मोड़ पर एक और वार रूम बनाया गया है, जिसे फिलहाल गोपनीय रखा गया है। इस वार रूम से पार्टी सोशल मीडिया संबंधी सारी चुनावी गतिविधियों का संचालन कर रही है।

बिहार पहला राज्य है जहां कोरोना काल में विधानसभा चुनाव होने जा रहा है। ऐसे में पार्टियों को अपने चुनाव अभियान का तौर-तरीका भी बदलना पड़ा है। अब ज्यादातर बैठकें और रैलियां वर्चुअल हो रही हैं। कांग्रेस भी बिहार में इनकी शुरुआत पहले चरण में 40 वर्चुअल महासम्मेलनों से कर रही है। पहले यह सम्मेलन एक सितंबर से शुरू होने थे, लेकिन पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी के निधन के कारण इन्हें स्थगित कर दिया गया था। उत्तर बिहार का काम देख रहे पार्टी के प्रभारी सचिव अजय कपूर के संयोजन में होने वाले इन सम्मेलनों की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। सभी जिला और ब्लॉक इकाइयों को निर्देश जारी करने के साथ ही हर जिले में प्रदेश की ओर से पर्यवेक्षक भी नियुक्त किए गए हैं।

हर सम्मेलन में दिल्ली से दो राष्ट्रीय नेता भी जुड़ेंगे
हर सम्मेलन में दिल्ली से दो राष्ट्रीय नेताओं के अलावा राज्य और संबंधित जिले के प्रमुख नेताओं द्वारा संबोधन किया जाएगा। राष्ट्रीय नेताओं के लिए नई दिल्ली स्थित अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के दफ्तर में बिहार के लिए वार रूम बनाया गया है। राज्य स्तरीय नेता सदाकत आश्रम में बने वार रूम से संबोधन देंगे। इसके अलावा जिला और विधानसभा क्षेत्र में भी स्क्रीन लगाए जा रहे हैं।

सोशल मीडिया टीम ने संभाला मोर्चा
पार्टी ने सगुना मोड़ पर एक और वार रूम बनाया है। वहां से सोशल मीडिया का सभी चुनावी गतिविधियों का संचालन होना है। इस टीम ने मोर्चा संभाल लिया है और काम शुरू कर दिया गया है। लोगों तक पार्टी का संदेश पहुंचाने के लिए पहले से मौजूद डाटा के अलावा डिजिटल सदस्यता अभियान के जरिए जुटाए गए डाटा का भी प्रयोग किया जा रहा है। बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल भी दो दिवसीय यात्रा पर पटना पहुंचने के बाद एयरपोर्ट से सीधे इसी वार रूम को देखने पहुंचे थे।

बोले बिहार-बदलें सरकार का नारा
कांग्रेस ने अपना चुनावी नारा भी तय कर चुकी है। पार्टी अपने आयोजनों और अन्य प्रचार सामग्री पर इसका प्रयोग भी कर रही है। कांग्रेस बिहार में महागठबंधन का हिस्सा है सो पार्टी ने सत्ता परिवर्तन का नारा बुलंद किया है। प्रचार अभियान के क्रम में पार्टी ने डिजिटल सदस्यता अभियान रथ भी शुरू किया है। इसके जरिए जहां डिजिटल सदस्यता का प्रचार-प्रसार किया जा रहा है, वहीं पार्टी के चुनावी संदेश भी यह रथ देगा। इसकी शुरुआत औरंगाबाद से की गई है।