Home बिहार बिहार विधानसभा चुनाव: नाथनगर सीट पर रहा महिला प्रत्याशी दबदबा, रोचक होगा...

बिहार विधानसभा चुनाव: नाथनगर सीट पर रहा महिला प्रत्याशी दबदबा, रोचक होगा मुकाबला

नाथनगर. पूर्वी बिहार के भागलपुर जिले का नाथनगर पहला विधानसभा क्षेत्र (Nathnagar Assembly Seat) है, जहां पांच चुनाव में महिला प्रत्याशी ने जीत दर्ज की है. स्व. सुधा श्रीवास्तव पांच बार इस क्षेत्र का नेतृत्व कर चुकी हैं. बिहार सरकार में कैबिनेट मंत्री भी रही थीं. 2019 के उपचुनाव में भी महिला प्रत्याशी दूसरे स्थान पर रही थीं. इस सीट को जदयू (JDU) का गढ़ माना जाता है. इस बार एनडीए और महागठबंधन में कांटे की लड़ाई होने की उम्मीद है.

भागलपुर लोकसभा क्षेत्र अन्तर्गत आने वाला नाथनगर विधानसभा क्षेत्र 1967 में अस्तित्व में आया. विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत नाथनगर, जगदीशपुर और सबौर प्रखंड आता है. अधिकतकर क्षेत्र भागलपुर शहर से सटा हुआ है. पहले चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी के झा ने जीत दर्ज की. पिछले कुछ चुनावों को देखें तो यहां हार-जीत का अंतर कम मतों का रहा है. सुधा श्रीवास्तव के बाद चुनचुन प्रसाद यादव ने तीन बार यहां का प्रतिनिधित्व किया.

राजनीतिक समीकरण

सुधा श्रीवास्तव के निधन के बाद अजय कुमार मंडल ने दो बार यहां से जीत दर्ज की. भाजपा को इस सीट पर कभी सफलता नहीं मिली. भाजपा प्रत्याशी डॉ. एपीएस प्रकाश 1995 में चुनाव लड़कर दूसरे स्थान पर रहे थे. जिले का यह दूसरा विधानसभा क्षेत्र है. जहां विधायक रहते लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की है. इसके पहले भागलपुर से विधायक रहते हुए अश्विनी कुमार चौबे ने लोकसभा चुनाव जीता था.गंगौता-मुस्लिम बहुल क्षेत्र
नाथनगर विधानसभा मुस्लिम, गंगौता और यादव बहुल क्षेत्र है. इसके अलावा कुशवाहा, तांती, सवर्ण, वैश्य और अनुसूचित जाति जनजाति मतदाताओं की संख्या भी अच्छी है.

रोचक होगा मुकाबला
नाथनगर विधानसभा क्षेत्र का चुनाव इस बार रोचक होने वाला है. 2015 के चुनाव से इस बार का समीकरण बदला हुआ है. 2015 में राजद, जदयू और कांग्रेस का गठबंधन था. गठबंधन के तहत यह सीट जदयू को मिला था. जदयू प्रत्याशी अजय कुमार मंडल ने लगातार दूसरी बार जीत दर्ज की थी. एनडीए से लोजपा प्रत्याशी अमर सिंह कुशवाहा दूसरे स्थान पर रहे थे. इस बार गठबंधन का स्वरूप बदला हुआ है.

पिछले चुनाव में साथ रहने वाले अब आमने-सामने होंगे. एनडीए और महागठबंधन के बीच कांटे का मुकाबला होने की उम्मीद है. 2019 के उपचुनाव में लक्ष्मीकांत मंडल ने जीत दर्ज की, लेकिन मतगणना के अंतिम दौर तक राजद प्रत्याशी राबिया खातून ने कड़ी टक्कर दी. इस बार राजद और जदयू के अलावा कांग्रेस में भी टिकट के दावेदारों की लंबी लिस्ट है.

शिक्षण संस्थान क्षेत्र की पहचान
नाथनगर विधानसभा क्षेत्र के अन्तर्गत उच्चतर शिक्षण संस्थान हैं. इसके अन्तर्गत बिहार कृषि विवि सबौर, इंजीनियरिंग कॉलेज, ट्रिपल आईटी सहित अन्य शिक्षण संस्थान हैं. यहां के कतरनी की खुशबू पूरे देश में मशहूर है. जगदीशपुर प्रखंड में कतरनी धान की खेती बड़े पैमाने पर होती है. कतरनी चावल और चूड़ा देश और विदेशों में जाता है. धान के अलावा गेहूं और सब्जी उत्पादन के मामले में भी क्षेत्र की पहचान है.

कांग्रेस केके झा ने दर्ज की थी पहली जीत
2019 के उपचुनाव में जदयू से लक्ष्मीकांत मंडल जीते
अजय कुमार मंडल के लोकसभा चुनाव जीतने के बाद हुआ था उपचुनाव
पांच बार सुधा श्रीवास्तव क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुकी हैं
तीन बार चुनचुन और दो बार अजय मंडल ने जीत दर्ज की
चुनचुन यादव नाथनगर का विधायक बनने के बाद तीन बार सांसद चुने गये
इस सीट पर भाजपा का अभी तक खाता नहीं खुला
2015 में राजद, कांग्रेस,जदयू गठबंधन के प्रत्याशी थे अजय मंडल

नाथनगर विधानसभा क्षेत्र की कुछ जनसंख्या

कुल मतदाता- 324081
पुरुष – 171445
महिला – 152621
अन्य – 15

अबतक निर्वाचित हुए विधायक
2019 (उपचुनाव) लक्ष्मीकांत मंडल जदयू
2015 अजय कुमार मंडल जदयू
2010 अजय कुमार मंडल जदयू
2005 (अक्टूबर) सुधा श्रीवास्तव जदयू
2005 (फरवरी) सुधा श्रीवास्तव जदयू
2000 सुधा श्रीवास्तव समता पार्टी

Most Popular