Home बिहार बिहार में BJP को विपक्ष से ज्यादा सरकार विरोधी माहौल का डर,...

बिहार में BJP को विपक्ष से ज्यादा सरकार विरोधी माहौल का डर, हर सीट पर पूरी ताकत झोंकेगी

बिहार में भाजपा विधानसभा की हर सीट पर अपनी पूरी ताकत लगाएगी, भले ही उस सीट पर उसका अपना उम्मीदवार हो या ना हो। पार्टी इस बार के विधानसभा चुनाव को लेकर काफी गंभीर है और उसके लिए अपने उम्मीदवारों को जिताने के साथ गठबंधन के उम्मीदवारों को जिताना भी बेहद जरूरी है। दरअसल राज्य में पार्टी को विपक्ष से ज्यादा सरकार विरोधी माहौल का डर है, जो कोरोना काल और बाढ़ के बाद उसके लिए मुश्किल पैदा कर सकता है। 

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा अपने दो दिन के बिहार दौरे में पार्टी की चुनावी तैयारियों और गठबंधन की स्थिति को लेकर जमीनी जानकारी ले रहे हैं। वह तय चुनावी रणनीति पर अब तक के अमल की समीक्षा भी करेंगे। राजग में अभी सीटों का बंटवारा नहीं हुआ है, लेकिन भाजपा के लिए इस बंटवारे से ज्यादा महत्व हर सीट की चुनावी तैयारी है। वह अपने सहयोगी दलों को भी कह रही है कि सीटों के बंटवारे को लेकर वाद-विवाद के बजाय हर सीट को जीतने के लिए ध्यान देना चाहिए।

गठबंधन पर जोर
पार्टी के एक प्रमुख नेता ने कहा है कि राज्य में भाजपा या उसके सहयोगी दल का जो भी उम्मीदवार हो, पार्टी के कार्यकर्ता पूरी ताकत से जुटेंगे। उन्होंने कहा कि चुनाव में भाजपा कार्यकर्ताओं को कहा जा रहा है कि वे गठबंधन को ध्यान में रखकर काम करें। सूत्रों के अनुसार पार्टी को अपने अंदरूनी आकलन में इस तरह के संकेत मिले हैं कि राज्य में इस बार सरकार विरोधी माहौल अपना असर दिखा सकता है। ऐसे में विपक्ष के कमजोर होने के बावजूद उसे नुकसान हो सकता है।

केंद्र और राज्य के प्रति भरोसा पैदा करेंगे
यही वजह है कि चुनाव के पहले केंद्र सरकार राज्य के लिए अपना खजाना खोल रही है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी खुद कई बड़ी परियोजनाओं के जरिए एक अघोषित पैकेज राज्य को देने जा रहे हैं। पार्टी की कोशिश है कि जनता में इससे केंद्र और राज्य सरकार के प्रति भरोसा पैदा होगा और वह विपक्ष के पिछले घपले-घोटालों को सामने रखकर अपनी जीत का रास्ता आसान कर सकेगी।

Most Popular