Homeबिहारबिहार में प्रीपेड बिजली मीटर लगना शुरू, रिचार्ज ख़त्म होने पर कट...

बिहार में प्रीपेड बिजली मीटर लगना शुरू, रिचार्ज ख़त्म होने पर कट जाएगी बिजली, इन दिनों ड्यूज का प्रावधान

बिहार में नवंबर माह के प्रथम सप्ताह से शहरी वन व टू डिविजन में प्रीपेड मीटर लगना शुरू हो जायेगा. बता दें, विद्युत निगम की प्रीपेड स्मार्ट मीटर योजना के तहत प्रीपेड स्मार्ट मीटर लगाए जाएंगे. महानगर के जिन घरों में स्मार्ट मीटर लगे हुए हैं, उन मीटरों को प्रीपेड मीटर में परिवर्तित किया जाएगा. इस व्यवस्था से बिजली बिल जमा करने के लिए लाइनों में नहीं लगना पड़ेगा.  साथ ही बिजली चोरी पर भी अंकुश लगेगा. इसके साथ ही मीटर का रिचार्ज खत्म होने पर तुरंत बिजली नहीं कटेगी.

गौरतलब है कि रिचार्ज समाप्त होने पर सुबह 10 बजे से 1 बजे के बीच बिजली कटेगी. छुट्टी के दिनों में रिचार्ज समाप्त होने पर बिजली नहीं कटेगी. प्रीपेड मीटर पहले से अधिक मोडिफायड है. मीटर निजी एजेंसी लगायेगी, लेकिन उन्हें इसकी अनुमति स्थानीय बिजली कंपनी के अधिकारी देंगे. उपभोक्ताओं को ज्यादा पैनिक होने की आवश्यकता नहीं है. इसके लिए उन्हें कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना है. ड्यूज की राशि 300 दिनों में बांट कर रिचार्ज की राशि से कटेगी. यह जानकारी एनबीपीडीसीएल रामदयालु सर्किल ऑफिस में आयोजित प्रेसवार्ता में सीनियर प्रोटोकॉल ऑफिसर ख्वाजा जमाल ने दी.

माइकिंग से मिलेगी लोगों को जानकारी
प्रेसवार्ता में अधीक्षण अभियंता पंकज राजेश ने कहा कि शहर व शहर से सटे जिन क्षेत्र में प्रीपेड मीटर लगेगा, वहां एक या दो दिन पहले माइकिंग की जायेगी कि उनके यहां प्रीपेड मीटर लगने वाला है. प्रत्येक उपभोक्ता के यहां इसे लगना है, जो लगाने से मना करेंगे, उनकी बिजली काट दी जायेगी. प्रेसवार्ता में शहरी वन के कार्यपालक अभियंता विजय कुमार, टू के पंकज कुमार, पूर्वी के मनोज कुमार जायसवाल, एजेंसी के प्रोजेक्ट हेड डीएन राव सहित बिजली कंपनी के अन्य अधिकारी मौजूद थे.

सर्विस लाइन जर्जर होने पर बदलेगा तार
सर्विस लाइन जर्जर होने या उसमें ज्वाइंट होने पर उसे बदलने के बाद ही यह मीटर लगेगा. सर्विस वायर उपभोक्ता को खुद देना होगा. एक दिन पहले सूचना दी जायेगी. ऐसे में उपभोक्ता अपने लोड के हिसाब से सर्विस वायर खुद खरीद कर रख लेंगे. इस मीटर को लगाने का कोई शुल्क उपभोक्ता को नहीं देना है. मीटर घर के बाहर ही लगेगा. प्रीपेड मीटर लगने के बाद वेलकम मैसेज आते ही रिचार्ज होगा और बिजली चालू होगी. किसी भी तरह की जानकारी के लिए हेल्प डेस्क होगा. सभी डिविजन व सब डिविजन में उपभोक्ता के लिए डेमो की व्यवस्था रहेगी. जिला व सभी प्रखंडों में होगा डेमो.

सिंगल फेज व थ्री फेज में 20 केवी कनेक्शन में लगेगा
अभी प्रीपेड मीटर सिंगल फेज कनेक्शन (1 से 7 किलोवाट) और थ्री फेज कनेक्शन (5 से 20 किलोवाट) में लगेगा. दूसरे फेज में 20 किलोवाट से अधिक वाले कनेक्शन में लगाया जायेगा. रिचार्ज के तीन ऑप्शन हैं. पहला डायरेक्ट सर्वर से, दूसरा मीटर को ब्लूटूथ से कनेक्ट कर, तीसरा रिचार्ज के बाद मीटर में कोड इंटर करने के बाद. न्यूनतम रुपये (करीब 20 रुपये) का रिचार्ज करा सकते हैं. रिचार्ज के लिए बिजली कंपनी के काउंटर के अतिरिक्त सुविधा केंद्र व अन्य रिचार्ज सेंटर भी खोले जायेंगे. किरायेदार के लिए अलग कनेक्शन ले सकते हैं.

छुट्टी में नहीं कटेगी बिजली, ड्यूज का प्रावधान
रिचार्ज समाप्त होने पर छुट्टी के दिनों में बिजली नहीं कटेगी, लेकिन छुट्टी के समय में जितनी बिजली उपभोक्ता खपत करेंगे, वह उनके ऊपर डयूज होता जायेगा. रिचार्ज होते ही उसमें से ड्यूज की राशि स्वत: कट जायेगी. मोबाइल पर मैसेज के अलावा बैलेंस देखने की सुविधा होगी. मीटर लगाते समय एजेंसी के साथ बिजली कंपनी की टीम मौजूद रहेगी.

 

Most Popular