Homeबिहारबिहार में उधोग लगाने के लिए युवाओं को दे रही है पैसे,...

बिहार में उधोग लगाने के लिए युवाओं को दे रही है पैसे, मिलेगी निःशुल्क ट्रेनिंग, जानिए कैसे करना है आवेदन…

अगर आपकी उम्र 18 वर्ष से ज्यादा की हो गई है। इंटरमीडिएट तथा ITI की डिग्री या उसके समान कोई शिक्षा हासिल कर लिया है। और जॉब नहीं मिली एवं जीविका की अन्वेषण में हैं तो घर बैठे आपने रुचि एवं योग्यता के इलाको में इंडस्ट्रियल-व्यवसाय के हेतु 10 लाख रुपये सरलता से ले सकते हैं। घर बैठे आनलाइन अप्लाई करिए करे। गवर्नमेंट आपकी रुचि अनुसार के इंडस्ट्रियल व्यवसाय से संबद्ध में निशुल्क 15 दिनों की ट्रेनिंग के उपरांत 50% प्रत्यावर्तन पर 10 लाख रुपये धनराशि की सहायता कर सकती है। 50% धनराशि 7 वर्षो में कमाकर सिर्फ 1% ब्याज के सहित आप चुका सकते हैं।

इंडस्ट्रियल डिपार्टमेंट द्वारा सीएम इंसस्टियल प्लानिंग के अंतर्गत स्टार्टअप फंड बनवाया गया है। उससे की आर्थिक सहयोग 18 से 50 वर्ष तक के लोगों को दिया जा सकता है। इस प्लान में 100 से अधिक कैटोगेरी के इंडस्ट्रियल व्यवसाय के सेलेक्ट स्वयं ही करना है। तक़रीबन 12 पेज के आनलाइन एप्लीकेशन में आपका नाम, पता, मोबाइल नंबर के सहित सभी वांछित जानकारी एवं डॉक्यूमेंट अपलोड किए जाएंगे। इंडस्ट्रियल डिपार्टमेंट के विस्तार पदाधिकारी आपके एप्लीकेशन के माध्यम पर वर्कस्टेशन सहित अन्य सारी जानकारियों का वेरिफिकेशन कर सेलेक्ट कोमिटी को भेज दिया जाएगा।

सीएम इंडस्ट्रियल प्लान में पिछड़ा वर्ग एवं जनरल कैटोगरी को एक समान प्रबंध की गई है। महिला एवं अनुसूचित जाति को भी उसका फायदा प्रदान करना है। प्रदेश में तक़रीबन 16000 एप्लीकेशन दिया गया है परंतु पटना जैसे बड़े जिले में सिर्फ 800 आवेदक हैं। जिन कैंडिडेट का वेरिफिकेशन और सिलेक्शन करवा लिया है, उसको प्रथम किश्त की धनराशि भुगतान आरंभ करवा दिया गया।

उद्योग एवं व्यापार के हेतु चुने गए युवाओं को 15 दिनों का निशुल्क ट्रेनिंग देना है। चंद्रगुप्त प्रबंधन संस्थान, ललित नारायण प्रबंधन संस्थान एवं बिहार इंडस्ट्रियल इंस्टीट्यूशन को ट्रेनिंग के हेतु अधीकारी किया गया है। डिपार्टमेंट तीनों इंस्टीट्यूशन को ट्रेनिंग देने के हेतु उद्देश तय कर दिया है।

Most Popular