Homeबिहारबिहार के इस जिले में कचरे का है अंबार, इन जगहों पर...

बिहार के इस जिले में कचरे का है अंबार, इन जगहों पर संक्रमण होने का भी खतरा

बिहार के राजकीय चिकित्सा महाविद्यालय एवं अस्पताल में कचरे के निपटान को लेकर व्यवस्था में कमी देखि जा रही है. बता दें, लापरवाही की इतनी हद पार हो गई कि मेडिकल वेस्ट और अन्य सामान्य कचरे को अलग-अलग कर निस्तारण नहीं किया जा रहा है. अस्पताल के भवन के पीछे ही लापरवाही के साथ कचरे को फेंका जा रहा है. इस वजह से मरीजों के बीमारी दूर होने के बावजूद संक्रमण का खतरा उत्पन्न हो गया है. इसके साथ ही काफी बदबू भी आती है.

जीएमसीएच अधीक्षक डा. वरुण कुमार ठाकुर ने बताया कि जल्द ही सफाई होगी. मेडिकल वेस्ट के लिए वाहन भागलपुर से आती है जो उठाव करती है. अब सवाल उठता है अभी तक इस तरह के कचरे को अस्पताल के भवन के पीछे लापरवाही से कैसे फेंका जा रहा है. जबकि अस्पताल की गंदगी से कई तरह के संक्रमण का फैलाव हो सकता है.

  • – अस्पताल भवन के पीछे ही कचरे को फेंकने से बढ़ा संक्रमण का खतरा
  • – वार्ड में मरीज और स्टाफ को दुर्गंध से हैं परेशान

अगर पक्षी और जानवर भी इस तरह के संक्रमण का शिकार होते हैं तो वह आम लोगों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. यहां तक कि इससे मिट्टी भी संक्रमित हो सकती है. विदित हो कि रोजाना हजारों लोग रोज अस्पताल जैसे सार्वजनिक जगह पर पहुंचते हैं. यहां इस तरह की लापरवाही खतरे को आमंत्रित करता है. स्टाफ और नर्स भी रोजाना डियूटी पर आते हैं. उनके हेल्थ के साथ भी खिलवाड़ किया जा रहा है.

शराबबंदी : विशेष छापेमारी में 15 लीटर शराब बरामद
डगरूआ पुलिस ने शराबबंदी को लेकर की गई विशेष छापेमारी के तहत हरखेली पंचायत के बीरबान गांव वार्ड संख्या छह से 15 लीटर देसी शराब बरामद किया है. एएसआई दिनेश यादव सह पुलिस बल द्वारा की गई छापेमारी में रीना देवी और सरस्वती देवी के घर से 15 लीटर देशी शराब बरामद किया गया. वही दोनों आरोपित फरार बताए गये। उक्त आरोपित के विरुद्ध मामला दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है. वही शराब मामले के फरार आरोपित योगेन्द्र चौहान को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेजा गया.

 

Most Popular