पीएमसीएच से चोरी बच्चे को ढूंढ नहीं सकी पुलिस, परिजनों का हाल बेहाल, बीमार पिता घटना से अनजान

पीएमसीएच से चोरी बच्चे को ढूंढ नहीं सकी पुलिस, परिजनों का हाल बेहाल, बीमार पिता घटना से अनजान

पीएमसीएच से चोरी 14 माह के बच्चे प्रियांशु को अबतक पटना पुलिस ढूंढ नहीं सकी है। पुलिस का सिर्फ यही जवाब है कि बच्चे की खोजबीन जारी है, अलावा इसके पुलिस एक भी कदम आगे नहीं बढ़ सकी है। बावजूद इसके इतनी बड़ी घटना घटित होने पर पुलिस प्रशासन के आला अधिकारी भी इस मामले को लेकर संजीदा नहीं हैं जबकि गायब बेटे के गम में परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। पीएमसीएच से इलाज के बाद गायब प्रियांशु के बीमार पिता धर्मेंद्र को छुट्टी दे दी गई है लेकिन उन्हें अबतक उन्हें घटना की जानकारी नहीं दी गई है।   

गायब प्रियांशु की मां मनीषा देवी सहित अन्य परिजन पटना पुलिस को कोस रहे हैं। उनका कहना है कि इस मामले में पुलिस ने शुरू से लापवाही बरती है। सीसीटीवी फुटेज में बच्चा चुराने वाली लड़की की तस्वीर कैद होने के बावजूद पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए कोई बड़ा कदम नहीं उठाया। कागज में ही पुलिस ने दबिश दी है। मां मनीषा देवी का आरोप है कि बच्चा चुराने वाली लड़की पीएमसीएच के आसपास की ही रहनेवाली है। यदि पुलिस गंभीर होती तो वह पकड़ी जरूर जाती।

मूलरूप से समस्तीपुर जिले के बतासा रामपुर हसन थाना हसनपुर निवासी धर्मेंद्र चौपाल को दिल का दौरा पड़ गया था। उसे पीएमसीएच में भर्ती कराया गया था। 25 अगस्त की दोपहर में बच्चे को उसकी नानी सगरी देवी खिला रही थी। तभी नानी से नजदीकियां बनाकर हरे रंग का शूट पहने एक लड़की नानी की गोद से बच्चे को लेकर भाग गई। इस मामले में परिजनों की ओर से पीरबहोर थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है।