Homeबिहारपटना यूनिवर्सिटी अपना जमीन मेट्रो निर्माण के लिए देगा, लेकिन अस्थायी जगह...

पटना यूनिवर्सिटी अपना जमीन मेट्रो निर्माण के लिए देगा, लेकिन अस्थायी जगह देने से इन्कार, पटना साइंस कॉलेज ने लिया बड़ा फैसला

राजधानी में मेट्रो निर्माण कार्य काफी तेजी से आगे बढ़ रहा है तो वहीं पिछले दिनों यह तय किया गया था कि पीएमसीएच परिसर के नीचे मेट्रो स्टेशन का निर्माण किया जाएगा। तो वहीं अब खबर आ रही है कि पटना यूनिवर्सिटी के पटना साइंस कॉलेज सिंडिकेट में मेट्रो निर्माण के लिए अपना 2000 वर्ग फीट जमीन हस्तांतरित करने का फैसला किया है। मंगलवार को पटना विश्वविद्यालय में एक बैठक के आयोजन जिसमें भूमि हस्तांतरित करने को लेकर प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई।

पटना यूनिवर्सिटी के जमीन को लेकर हुआ विवाद
आपको बता दे कि इस बैठक में पटना यूनिवर्सिटी के बिना शर्त जमीन देने पर भी विवाद हुआ, लेकिन कुलपति के हस्तक्षेप और राज्य सरकार के साथ बैठक के दौरान कही गई बातों से सिंडिकेट सदस्यों को अवगत करा दिया गया। इसके बाद सभी सदस्यों की सहमति के बाद जमीन देने की मुहर लगाई गई। लेकिन निर्माण कार्य के लिए जमीन देने पर कोई समझौता नहीं हुआ।

जानकारी के अनुसार बैठक में निर्णय लिया गया कि मेट्रो परियोजना हेतु मांगी गयी स्थायी भू-भाग को हस्तगत करा दी जाये, लेकिन निर्माण कार्य एवं समान रखने के लिए मांगी जा रही अस्थायी भूमि को हस्तगत नहीं किया जाये क्योंकि इससे पटना सायंस कॉलेज के स्टूडेंट्स की खेल संबंधी सारी गतिविधियां बाधित हो जायेगी, जो उचित नहीं होगा। निर्माण कार्य करने वाली एजेंसी इसके लिए किसी अन्य स्थान का चयन कर ले। सिंडिकेट सदस्य पप्पू वर्मा ने कहा कि निर्माण कार्य के लिए राजकीय मदरसा इस्लामिया समशुल होदा के जमीन लिया जाये।

मेट्रो स्टेशन निर्माण के लिए पीयू की इतनी जमीनें जाएगी                                                    बता दें कि सरकार ने मेट्रो स्टेशन के निर्माण के लिए सायंस कॉलेज की करीब दो हजार वर्ग मीटर जमीन की मांग की थी। साइंस कॉलेज व एनआइटी कॉर्नर पर ही मेट्रो स्टेशन का निर्माण किया जाना है। इस वजह से अधिक जमीन की जरूरत पड़ रही है। इसके अलावा पीयू की कुछ अन्य जमीन भी जायेगी।

Most Popular