नीतीश कुमार से मिले जीतन राम मांझी, विधानसभा चुनाव को लेकर हुई चर्चा

nitish kumar  and jitan ram manjhi

पूर्व मुख्यमंत्री व हम पार्टी के नेता जीतन राम मांझी ने शनिवार की शाम मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से मुलाकात की। काफी देर तक दोनों नेताओं के बीच बातचीत हुई। बताया गया कि मुख्यमंत्री आवास में हुई इस मुलाकात के दौरान वहां पर विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार चौधरी और सासंद ललन सिंह भी उपस्थित थे। 

मिली जानाकारी के अनुसार, दोनों ही नेताओं में विधानसभा चुनाव में आगे की रणनीति पर चर्चा हुई। इस दौरान सीटों पर भी बातें हुईं। गौरतलब हो कि हम प्रमुख ने कुछ दिनों पहले ही महागठबंधन से अलग होकर जदयू के साथ गठबंधन का ऐलान किया था। इस ऐलान के बाद उनकी मुख्यमंत्री से यह पहली मुलाकात है।   

नीतीश कुमार का मुझ पर अहसान, इसलिए JDU से किया गठबंधन : जीतन राम मांझी

पूर्व मुख्यमंत्री जीतीन राम मांझी ने जदयू के साथ गठबंधन के निर्णय को लेकर कहा है कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का मेरे ऊपर एहसान हैं। उन्होंने मुझे मुख्यमंत्री बनाया। कुछ कारणों हम दोनों के बीच गलतफमियां हो गई थीं। इसलिए हमलोग अलग हो गए थे। लेकिन, अब फिर साथ आ गए हैं। 

शुक्रवार को मीडिया से बातचीत में मांझी ने राजद प्रमुख लालू प्रसाद पर निशाना साधा और कहा कि वे गलत बोलते हैं और बाद में उसका मिलान नहीं हो पाता। कहा कि लालू जी मुझे महागठबंधन में आने के लिए आमंत्रित किए थे। कुछ कारणों से हम वहां चले गए थे। हम समझते थे कि न्यायालय और निजी क्षेत्रों समेत प्रोन्नति में आरक्षण तथा समान स्कूल प्रणाली मामले में वे खुल कर समर्थन देंगे। पर, उन्होंने ऐसा नहीं किया। 

जदयू के मुकाबले उम्मीदवार देने की लोजपा नेता की बात सही नहीं 
एक सवाल पर कहा कि लोजपा अगर गठबंधन के तहत अपनी मांग रखती है, तो यह उनका काम है। पर, अगर लोजपा नेता यह कहते हैं कि जदयू जहां से लड़ेगी वहां लोजपा अपना उम्मीदवार उतारेगी, तो यह उचित नहीं है। ऐसे में जदयू भी लोजपा की सीटों पर प्रत्याशी खड़ा करेगा। इससे बात बिगड़ेगी। जदयू के ऊपर बोलने को लेकर लोजापा को जवाब देने के मामले में उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार खुद सक्षम हैं। उनके प्रवक्ता लोग हैं।