दीघरा कांड : अपहर्ता का मोबाइल बंद होने से नहीं मिल रहा सही लोकेशन, दिल्ली व आसपास में कैंप कर रही एसआईटी

दीघरा कांड : अपहर्ता का मोबाइल बंद होने से नहीं मिल रहा सही लोकेशन, दिल्ली व आसपास में कैंप कर रही एसआईटी

दीघरा मामले में पुलिस अपहर्ता और अपहृत लड़की के काफी करीब पहुंच चुकी है, लेकिन अपहर्ता का मोबाइल बंद होने से सही लोकेशन नहीं मिल रही है। मुजफ्फरपुर पुलिस सूत्रों की मानें तो दिल्ली और आसपास में एसआईटी कैंप कर रही है। बीच-बीच में अपहर्ता का मोबाइल ऑन होता है, लेकिन टीम जब उस इलाके में छापेमारी करती है तो फिर से मोबाइल बंद हो जाता है। अपहर्ता वहां से निकल जा रहे हैं। इस कारण गिरफ्तारी नहीं हो रही है।
अपहर्ता काफी शातिर माने जा रहे हैं। इसलिए बार-बार बचकर निकल जा रहे हैं। एसआईटी लड़की की तस्वीर लेकर वहां पर खोज रही है। बस स्टैंड और जंक्शन से लेकर इलाके के दुकानदारों से पूछताछ की जा रही है, लेकिन सही जानकारी अबतक नहीं मिली है।
इधर, करजा से हिरासत में लिए गए ट्रक चालक के पुत्र और पत्नी से पूछताछ जारी है। अपहर्ता से जुड़े करीब एक दर्जन मोबाइल नंबरों को सर्विलांस पर रखा गया है। जिस नंबर पर कोई बाहर से कॉल आ रही है, उससे पूछताछ की जा रही है।
 
आज पीड़ित परिवार से मिलेंगी अध्यक्ष
बिहार राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष दिलमणि मिश्रा आज मुजफ्फरपुर आएंगी। उनका कार्यक्रम जारी हो चुका है। वे सुबह पटना से निकलेंगी। दोपहर 12.30 बजे दीघरा में पीड़ित व्यवसायी के घर पहुंचकर घटनास्थल का जायजा लेंगी। व्यवसायी से बातचीत कर उनका पक्ष जानने के बाद सर्किट हाउस लौटेंगी। वहां एसएसपी के साथ बैठक कर इस पूरे घटनाक्रम की समीक्षा करेंगी।

गोपनीय तरीके से चल रही कार्रवाई
पूरी कार्रवाई काफी गोपनीय तरीके से चल रही है। कोई भी पुलिस अधिकारी इस बारे में कुछ भी बताने से कतरा रहे हैं। इस घटना में शामिल सभी आरोपितों का पता किया जा रहा है। एक पुलिस पदाधिकारी की मानें तो लड़की की बरामदगी के बाद सभी पकड़ में आ जाएंगे। मुख्य आरोपित के करीब टीम पहुंच चुकी है।

एसएसपी ने कहा, कांड का खुलासा शीघ्र
एसएसपी जयंतकांत ने कहा कि दीघरा कांड का शीघ्र ही खुलासा होगा। परिजन के संपर्क में वे लगातार बने हुए हैं। लड़की के परिजन और आसपास के लोग पुलिस की कार्रवाई से संतुष्ट हैं। उन्होंने घटना की गुत्थी सुलझाने में पुलिस को मदद करने की बात भी परिजन और स्थानीय लोगों से कही है।