Homeझारखंडझारखण्ड से गुजरने वाली इन ट्रेनों को कैंसिल करदिया गया है, देखिये...

झारखण्ड से गुजरने वाली इन ट्रेनों को कैंसिल करदिया गया है, देखिये पूरा लिस्ट

अग्निपथ योजना के विरोध के नाम पर शुक्रवार को देश के विभिन्‍न हिस्‍सों में हुई हिंसा का असर रेलवे पर पुरजोर तरीके से पड़ा है। शनिवार को धनबाद से खुलने और इस रूट से होकर गुजरने वाली कई ट्रेनों को रेलवे ने रद कर दी है। इन ट्रेनों में मुख्‍य रूप से बिहार और उत्‍तर प्रदेश को जाने वाली ट्रेनें शामिल हैं।

शुक्रवार देर रात, रेलवे की ओर से जारी सूचना के मुताबिक, शनिवार को धनबाद से पटना जाने वाली धनबाद पटना इंटरसिटी अप एंड डाउन और पटना से धनबाद आने वाली पटना धनबाद गंगा दामोदर एक्सप्रेस के अलावा पटना हटिया पाटलिपुत्र एक्सप्रेस, गोरखपुर हटिया मौर्य एक्सप्रेस, रांची हावड़ा शताब्दी एक्सप्रेस, पूर्णिया कोर्ट हटिया कोसी एक्सप्रेस, हटिया इस्लामपुर एक्सप्रेस और पटना रांची जनशताब्दी एक्सप्रेस रद्द रहेंगी।

आज लालकुआं-हावड़ा भी रद, कल जम्मूतवी व जालियांवाला बाग के रद रहने के आसार

गौरतलब है कि रेलवे ट्रैक पर प्रदर्शन के कारण शुक्रवार को रद हुई ट्रेनों के कारण अगले कई दिनों तक इसका प्रभाव दिखेगा। शुक्रवार को रद हुई हावड़ा-लालकुआं एक्सप्रेस शनिवार को वापसी में लालकुआं से रद रहेगी। इसके साथ ही शुक्रवार को रद हुई कोलकाता-जम्मूतवी और सियालदह-अमृतसर जालियांवाला एक्सप्रेस के 19 जून को रद होने की पूरी संभावना है। हालांकि रेलवे ने अभी इसकी घोषणा नहीं की है, लेकिन इन ट्रेनों को चलाने में रैक आड़े आएगा। इधर से ट्रेन नहीं जाने की वजह से रैक उपलब्ध नहीं होगा और ट्रेन रद करनी होगी। इन ट्रेनों के साथ-साथ पाटलिपुत्र एक्सप्रेस और इस्लामपुर-हटिया एक्सप्रेस भी प्रभावित हुई। दोनों ट्रेनें गंतव्य के बजाय बीच रास्ते तक ही गईं। इस वजह से वापसी में दोनों ट्रेनों को रद कर दिया गया।

टिकट रद कराने को लंबी लाइन, रात में इंक्वायरी काउंटर पर उमड़ा हुजूम

धनबाद से होकर गुजरने वाली कोलकाता-जम्मूतवी, हावड़ा-लालकुआं और सियालदह-अमृतसर जैसी लंबी दूरी की ट्रेनों के रद होने से शुक्रवार को रात आठ बजे तक आरक्षण काउंटर पर टिकट रद कराने वालों की लंबी लाइन लगी रही। आम दिनों की तुलना में ज्यादा संख्या में टिकट रद हुए। तकरीबन 195-200 यात्रियों ने टिकट रद कराया और रेलवे को लगभग 80 हजार रुपये रिफंड करने पड़े। रेलवे ने इसकी घोषणा भी कर दी थी कि बाधित ट्रेनों के टिकट रद कराने पर कैंसिलेशन शुल्क नहीं लिया जाएगा। धनबाद के साथ-साथ गोमो, पारसनाथ और कोडरमा में भी बड़ी संख्या में टिकट रद कराए गए। वहीं ट्रेनों के रद होने, मार्ग बदलने, लेट से चलने और गंतव्य स्टेशन तक नहीं चलने जैसी सूचनाओं के लिए धनबाद स्टेशन के इंक्वायरी काउंटर पर देर शाम तक यात्रियों का हुजूम उमड़ा रहा। यात्रियों की शिकायत की कि वीसी इंक्वायरी से उन्हें सटीक जानकारी नहीं मिल रही है।

Most Popular