Homeझारखंडझारखण्ड, बिहार, यूपी के लिए 330 स्पेशल ट्रेन चलाएगा रेलवे, जानें इससे...

झारखण्ड, बिहार, यूपी के लिए 330 स्पेशल ट्रेन चलाएगा रेलवे, जानें इससे जुड़े सभी अपडेट्स…

देश में कोरोना बेकाबू हो चुका है. कोरोना पर काबू पाने के लिए दिल्ली और महाराष्ट्र समेत देश के कई हिस्सों में लॉकडाउन जैसी पाबंदियां लागू हैं. कोरोना के तेजी से बढ़ते मामलों के बाद राज्य सरकारों ने एक-एक कर लॉकडाउन (Lockdown) की घोषणा की है. लॉकडाउन और कड़ी पाबंदियों की घोषणा के बाद दिल्ली और मुंबई से भारी संख्या में प्रवासी कामगारों का अपने घर लौटना शुरू हो चुका है. राज्य सरकारों ने हालांकि अपील की है कि वे जहां हैं वहीं रहें, उनका पूरा ख्याल रखा जाएगा, लेकिन उन्हें एक बार फिर लंबे लॉकडाउन का डर सता रहा है. रेलवे ने भी कोरोना काल में यात्रियों की सुविधाओं के लिए कई स्पेशल ट्रेनें चलाई हैं.

इस बीच रेलवे ने गोरखपुर, पटना, मुजफ्फरपुर, वाराणसी, गुवाहाटी, इलाहाबाद और बोकारो जैसे अधिक मांग वाले गंतव्यों के लिए अप्रैल और मई के बीच 674 अतिरिक्त फेरे संचालित करने की योजना बनाई है. रेलवे ने कहा है कि देश में कोरोना वायरस के मामलों में इजाफा होने के कारण यात्रियों की संख्या में बढ़ोतरी नहीं देखी गई है. जमीनी रिपोर्ट बताती हैं कि अपने गृह राज्यों के लिए रवाना होने वाले प्रवासी श्रमिकों की संख्या में बढ़ोतरी हुई है. रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष सुनीत शर्मा ने कहा कि इस समय 70 फीसदी ट्रेन सेवाएं चालू हैं और रेलवे मांग के अनुसार अतिरिक्त रेलगाड़ियों का भी संचालन कर रहा है.

इस समय रेलवे औसतन प्रतिदिन 1,514 ट्रेन और प्रतिदिन 5,387 उपनगरीय सेवाएं संचालित कर रहा है. रेलवे ने 28 विशेष ट्रेन भी चलाई हैं और वह 984 यात्री सेवाएं संचालित कर रहा है. शर्मा ने कहा, ‘कोविड-19 के बावजूद ट्रेन संचालन जारी रहेगा. हम मांग के अनुसार सेवाएं बढ़ा रहे हैं.’

330 अतिरिक्त ट्रेन के 674 फेरे में से मध्य रेलवे 143 ट्रेन (377 यात्राएं), पश्चिम रेलवे 154 ट्रेन (212 यात्राएं), उत्तर रेलवे 27 ट्रेन (27 यात्राएं), पूर्व मध्य रेलवे दो ट्रेन (चार यात्राएं), उत्तर पूर्व रेलवे 9 ट्रेन (14 यात्राएं), उत्तर मध्य रेलवे एक ट्रेन (10 यात्राएं) और दक्षिण पश्चिम रेलवे तीन ट्रेन (30 यात्राएं) संचालित कर रहा है. इन 330 अतिरिक्त ट्रेन में से 101 मुंबई क्षेत्र और 21 दिल्ली क्षेत्र से चलाई जा रही हैं.

शर्मा ने कहा, ‘कुल 330 ट्रेनों (674 फेरे) की योजना बनाई गई है. गोरखपुर, पटना, दरभंगा, मुजफ्फरपुर, भागलपुर, वाराणसी, गुवाहाटी, मंडुआडीह, बरौनी, प्रयागराज, बोकारो, रांची, लखनऊ और कोलकाता जैसे अधिक मांग वाले गंतव्यों के लिए ये ट्रेन चलाई जा रही हैं.’

Most Popular